आज 8750 माईल प्रति घंटे की रफ्तार से गिरेगा स्पेसक्राफ्ट

Apr 30 2015 03:49 PM
आज 8750 माईल प्रति घंटे की रफ्तार से गिरेगा स्पेसक्राफ्ट

न्यूयाॅर्क : मर्करी प्लेनेट में एंट्री लेने वाले रोबोटिक स्पेसक्राफ्ट मैसेंजर अचानक गिरकर पृथ्वी की ओर 8750 माईल प्रति घंटे की रफ्तार से गिरेगा। ज़रा सोचिए यदि यह प्लेनेट धरती पर गिरेगा तो आखिर क्या होगा। क्या धरती पर कोई खतरा आने वाला है। माना जा रहा है कि यह 30 अप्रैल की रात्रि में 1 बजे क्रैश हो जाएगा। हाल ही में नासा द्वारा स्पेस क्राफ्ट मैसेंजर को लेकर अध्ययन किया गया तो इस बात का पता चला।

करीब 4 वर्ष पहले इस कृत्रिम उपग्रह ने मर्करी प्लेनेट में एंट्री ली। मगर अब इसका ईंधन समाप्त हो गया। जिसके चलते यह तेजी से पृथ्वी की ओर आ रहा है। मर्करी का तापमान 430 डिग्री इस स्पेसक्राफ्ट की मदद से यह पता लगाने में सहायता मिली है कि मर्करी पर दिन का तापमान 800 डिग्री फारेनहाईट करीब 430 डिग्री सेल्सियस हो जाता है। इससे रात के समय तापमान गिर कर माईनस 290 डिग्री फारेनहाईट लगभग माईनस 180 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच जाता है।

मैसेंजर ने मर्करी के धरातल पर मौजूद कई रासायनिक तत्वों के चित्र भेजे हैं, इन चित्रों में कुछ वाष्पजनित पदार्थ भी पाए गए हैं। मर्करी के धरातल पर भी चुंबकीय तत्व की मौजूदगी के संकेत मिले हैं। मैसेंजर के धरती पर आने की खबर से खगोलविद् और वैज्ञानिक इससे जुड़ी जानकारी लेने में लगे हैं। धरती से इसे रोबोट तकनीक से संचालित किया जा रहा था। इसे 11 साल पहले लांच किया गया थां और 4 वर्ष पहले यह मर्करी प्लेनेट में प्रवेश कर चुका था। इस उपग्रह ने बड़े पैमाने पर महत्वपूर्ण जानकारियां प्रदान की थीं।