बाप-बेटे के बीच फुटबाॅल बनी ’सपा की साइकिल’

लखनउ :  समाजवादी पार्टी  की ’साइकिल’ मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव के बीच ’फुटबाॅल’ की तरह बन गई है। दोनों ही गुट साइकिल पर दावा कर रहे है, हालांकि अंतिम फैसला अब चुनाव आयोग को ही करना है। गौरतलब है कि सपा की जंग में पार्टी का सिंबाल साइकिल भी विवाद का कारण बन गई है।

टिकट बंटवारे के बाद उपजे विवाद में मुलायम सिंह और अखिलेश यादव के दो धड़े हो गये है तथा अखिलेश ने न केवल अपने  आपको पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष घोषित कर दिया है वहीं पार्टी के सिंबाल साइकिल पर भी दावा किया है। इधर अखिलेश का साथ देने वाले रामगोपाल यादव ने चुनाव आयोग के समक्ष हलफनामा दे दिया है। बताया गया है कि हलफनामे में 205 विधायकों का समर्थन है। रामगोपाल का दावा है कि साइकिल पर अखिलेश गुट का अधिकार है।
 

मुलायम दिल्ली के लिये रवाना
’साइकिल’ पर अपना अधिकार बरकरार रखने के लिये मुलायम सिंह यादव भी रविवार को दिल्ली के लिये रवाना हो गये है। बताया गया है कि उनके साथ शिवपाल यादव भी है और इनके द्वारा सोमवार को चुनाव आयोग के सामने हलफनामा दाखिल किया जायेगा।

दस्तावेज से होगा सपा की ’साइकिल’ का फैसला

बेटा बाप पर भारी, रोका सपा के खातों का संचालन

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -