Share:
भारतीय हैकर्स ने स्नैपचेट के  17 लाख  डाटा लीक किए
भारतीय हैकर्स ने स्नैपचेट के 17 लाख डाटा लीक किए

नई दिल्ली : कुछ भारतीय हैकर्स का दावा है कि उन्होंने 17 million स्नैपचैट यूजर्स के डाटाबेस को लीक किया है. हालाँकि इसे पिछले साल हैक किया गया था, लेकिन  भारतीय हैकर्स  का यह कदम स्नैपचैट के सीईओ इवान स्पीगल की भारत के खिलाफ टिप्पणी के बाद सामने आया है. बता दें कि स्पीगल ने कहा था कि भारत और स्पेन जैसे गरीब देशों में उनकी कंपनी के विस्तार करने की कोई योजना नहीं है.

भारतीय हैकर्स के अनुसार उन्हें पिछले साल स्नैपचैट डेटाबेस को हैक कर लिया था और उन्होंने अब 17 लाख यूजर के डेटा को लीक कर दिया है.हैकर्स ने इस डेटा को डार्कनेट पर लीक किया, ताकि वे भारत के खिलाफ की गई कंपनी की टिप्पणी का विरोध कर अपना असंतोष जाहिर कर सकें. हैकर्स ने कहा कि उन्हें पिछले साल ही स्नैपचैट में बग मिला था.मगर, एप का डेटा कभी लीक नहीं किया गया हालांकि, स्नैपचैट के सीईओ के अहंकार ने उन्हें ऐसा करने के लिए मजबूर किया. हैकर्स ने यह भी धमकी दी है कि यदि स्नैपचैट के सीईओ ने मांफी नहीं मांगी, तो उसके वर्चुअल वर्ल्ड में हमले होते रहेंगे. जबकि दूसरी ओर स्नैपचैन ने किसी भी तरह के डाटा लीक की बात से इंकार किया है.

इस घटना को लेकर सोशल मीडिया में भी कंपनी की आलोचना की जा रही है. कई लोगों ने एप स्टोर में जाकर कंपनी की रेटिंग को 5 से कम करके 1 कर दिया है. लेकिन इस स्नैपचेट की गलती का खामियाजा भारतीय कंपनी स्नैपडील को भी भुगतना पड़ा है. कुछ लोगों ने गलती से स्नैपचैट को स्नैपडील समझ लिया और उन्होंने अपने मोबाइल से स्नैपडील के एप को हटाना शुरू कर दिया.मामले का पता तब चला, जब लोगों ने स्नैपडील अनस्टॉल करने के स्क्रीनशॉट ट्विटर पर पोस्ट करना शुरू किए.स्नैपडील के सीईओ कुणाल बहल ने अपने ट्वीट में कहा कि स्नैपचैट के सीईओ ने गलत बातें कहीं हैं, लेकिन इसका खामियाजा स्नैपडील को भुगतना पड़ रहा है.कृपया अपनी रेटिंग्स बदल दें.

यह भी देखें 

Snapchat CEO के बयान पर ट्वीटर पर बवाल

Snapchat सीईओ ने भारत को गरीब देश बताया !

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -