गवाह ने कहा सज्जन कुमार ने भड़काया था दंगा

By Rohit Tripathi
Sep 11 2015 10:09 AM
गवाह ने कहा सज्जन कुमार ने भड़काया था दंगा

कांग्रेसी नेता सज्जन कुमार को 1984 में हुए दंगे में एक दंगा पीड़ित ने अदालत के सामने सिखों की हत्या के लिए भीड़ को उकसाने वालों में से एक के रूप में पहचाना है. आपको बता दे की ये दंगे तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या के बाद हुए थे. अदालत के सामने गवाही देते हुए शीला कौर ने अदालत से यह कहा कि उसने सज्जन कुमार को भीड़ से यह कहते हुए देखा कि सिखों ने ‘हमारी मां’ को मारा है और उन्होंने भीड़ को सिक्खो की हत्या करने के लिए भी उकसाया.शीला ने जिला न्यायाधीश कमलेश कुमार के सामने गवाही देते हुए आगे कहा, एक नवंबर 1984 को मुझे समय याद नहीं है, मैंने अपने घर के बाहर एक आवाज सुनी थे.

मैं घर से बाहर आई तो मैने देखा कि मेरे घर के सामने पार्क में भीड़ इकट्ठा थी. और मैंने आरोपी सज्जन कुमार को भीड़ से यह कहते हुए देखा कि सिखों ने हमारी मां को मार डाला था. जिसके बाद भीड़ ने नारेबाजी शुरू कर दी.’उन्होंने कहा, ‘आरोपी सज्जन कुमार कहते रहे इन सभी को मार दो, उनके घरो को जला दो. यह सुनकर मैं अपने घर की ओर भागी. भीड़ लाठियां लेकर मेरे घर की और बड़ी..’ उन्होंने अदालत से यह कहा कि भीड़ ने उनके परिवार के तीन सदस्यों पति बलबीर सिंह, ससुर बसंत सिंह और देवर बलिहार सिंह को घर से बाहर निकालकर हत्या कर दी.सज्जन कुमार, ब्रहमानंद गुप्ता और वेद प्रकाश पश्चिमी दिल्ली के सुल्तानपुरी में सुरजीत सिंह की हत्या के मामले में हत्या तथा दंगा करने एवं दंगा भड़काने के आरोप में मुकदमे चल रहे है.