ट्रंप की जीत,अमेरिका-रूस के संबंध सुधारने में हो सकती है सहायक

माॅस्को: अमेरिका के राष्ट्रपति पद पर हाल ही में निर्वाचित होने वाले डोनाल्ड ट्रंप को लेकर विश्व स्तर पर चर्चाओं का दौर है। इतना ही नहीं कई विशेषज्ञ और वैश्विक नेता मंथन में जुट गए हैं। विश्व स्तर पर ये आंकलन किया जाने लगा है कि विभिन्न देशों से विश्व के सबसे शक्तिशाली देश के संबंध कैसे होंगे। इसी मामले में सोवियत यूनियन के अंतिम नेता मिखाइल गोर्बाचेव ने कहा कि नवनिर्वाचित राष्ट्रपति ट्रंप की जीत से अमेरिका रूस के संबंध सुधारने में सहायता मिल सकती है।

गौरतलब है कि अमेरिका और रूस के बीच सीरिया में युद्धक विमानों से बमबारी किए जाने के मामले में विवाद है। दोनों देश एक दूसरे पर आरोप लगाते आ रहे हैं और मांग की जा रही है कि अब ये हमले रोक देना चाहिए। विशेषज्ञों का मानना है कि दोहरे पक्ष द्वारा इस मामले में होने वाली वार्ता को बेनतीजा रहने से रोकना होगा।

यह सब रूस और अमेरिका के हालात पर ही टिका हुआ है। गौरतलब है कि सीरिया में आईएसआईएस के खिलाफ संयुक्तरूप से अमेरिका, फ्रांस, रूस आदि देशों की सेनाओं द्वारा अभियान चलाया गया। इन देशों की सेनाओं ने अपनी वायु सेना के हमलों से सीरिया में आईएसआईएस के अभियान को कमजोर कर दिया और आतंकी क्षेत्र छोड़कर यहां वहां भागने लगे।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -