पुरस्कारों से हटाए राजीव- इंदिरा के नाम

Apr 21 2015 12:34 PM
पुरस्कारों से हटाए राजीव- इंदिरा के नाम
नई दिल्ली : केंद्र सरकार द्वारा हिंदी दिवस पर दिए जाने वाले पुरस्कारों को लेकर एक महत्वपूर्ण फैसला लिया गया है। संभावना जताई जा रही है कि सरकार के इस फैसले से राजनीति गर्मा सकती है। दरअसल सरकार ने देश की भूतपूर्व प्रधानमंत्री स्व. इंदिरा गांधी और स्व. राजीव गांधी का नाम हटा लिया है। दरअसल सरकार ने इस दिवस पर दिए जाने वाले कुछ पुरस्कारों का नामकरण इन दोनों विभूतियों के नाम पर किया गया था। 

मिली जानकारी के अनुसार 25 मार्च 2015 को राजभाषा विभाग की ओर से इस संबंध में निर्देश जारी किए गए हैं। राजभाषा विभाग द्वारा जानकारी दी गई कि इंदिरा गांधी के नाम से दिए जाने वाले पुरस्कार को राजभाषा कीर्ति पुरस्कार के नाम से और राजीव गांधी के नाम से दिए जाने वाले पुरस्कार को ज्ञान - विज्ञान मौलिक पुस्तक लेखन पुरस्कार के तौर पर प्रदान किया जाएगा। 

उल्लेखनीय है कि पुरसकरों के नामों में बदलाव करने से कांग्रेस कार्यकर्ताओं में असंतोष है हालांकि राजभाषा संघर्ष समिति और राजभाषा विभाग के कर्मचारियों ने अप्रत्यक्षतौर पर इस फैसले पर खुशी जताई है। उनका कहना है कि हालांकि दोनों भूतपूर्व प्रधानमंत्रियों के नामों पर पुरस्कार दिया जाना अच्छा था लेकिन यदि राजभाषा का नाम इन पुरस्कारों में आ रहा है तो यह भी ठीक है।