विदेशी धरती पर पीएम मोदी ने की सुषमा स्वराज की जमकर तारीफ
विदेशी धरती पर पीएम मोदी ने की सुषमा स्वराज की जमकर तारीफ
Share:

यंगून: अपने म्यामांर दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यंगून में भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए जहा भारत और म्यांमार के रिश्तों के बारे में बताया है. वही विदेश मंत्री सुषमा स्वराज की भी जमकर तारीफ की जिसमे उन्होंने कहा कि जितनी भारत की विदेश मंत्री सक्रीय है. उतने अन्य देश के विदेश मंत्री नहीं है. विदेशो में बसें और फंसे लोगो के लिए सुषमा स्वराज हमेशा खड़ी है. वे विदेश में बसें भारतीयों की मदद के लिए हमेशा तैयार रहती है. यही नहीं भारतीयों के अलावा विदेशी नागरिको की मदद से भी सुषमा कभी हिचकिचाती नहीं है. पीएम मोदी ने कहा कि मदद में हम पासपोर्ट का रंग नहीं देखते है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सम्बोधन में कहा कि म्यांमार के भारतीयों ने दोनों देशो को दिल में समेटा हुआ है. मैं म्यांमार की संस्कृति की झलक को नजदीक से देखना चाहता हू. भारत और म्यांमार की सीमाएं ही नहीं भावनाये भी जुडी हुई है. म्यांमार ने बुद्ध की शिक्षा को संवारा है. साथ ही भारत और म्यामांर की संस्कृति का पारस्परिक मेलजोल बताया. म्यामांर की धरती का महत्व बताते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि यह वही धरती है जहा पर भारत के सुभाष चंद्र बोस ने कहा था कि " तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हे आज़ादी दूंगा". यह वही धरती है जहा पर बहादुर शाह जफ़र को दो गज जमीन नसीब हुई थी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय समुदाय को संबोधित करते हुए हाल में मनाये गए त्यौहार गणेश चतुर्थी और ईद की भी शुभकामनायें दी. उन्होंने कहा कि म्यांमार में रह रहे भारतीय हमारे राजदूत है. जो साथी देश के साथ भारत के विकास में भी मदद कर रहे है. म्यांमार की पुण्यभूमि ने विपश्यना का उपहार दिया. आज़ादी के आन्दोलन में म्यांमार की भूमिका को पीएम मोदी ने महत्वपूर्ण बताया. हम नया भारत बनाने में जुटे हुए है. जिसमे हमारे द्वारा कई अहम कार्य किये जा चुके है . और हम लगातार भारत के विकास के लिए लगे हुए है. पीएम ने किसानो की आय को डबल करने पर भी काम करने का जिक्र किया है.

इसके साथ ही नोटबंदी, सर्जिकल स्ट्राइक जीएसटी और कालेधन आदि का भी जिक्र किया. उन्होंने कहा कि हमारे लिए दल से बड़ा देश है. हम देश के लिए कार्य कर रहे है ना कि किसी दल के लिए. इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने म्यामांर के प्रेसिडेंट टिन क्याव व स्टेट काउंसलर आंग सान सू की से मुलाकात की. जिसमे कई मसलों पर बात की गयी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत और म्यांमार के बीच कई अहम फैसलों का भी जिक्र किया है. पीएम मोदी ने भारत की जेलों में बंद म्यांमार के 40 मछुआरों को रिहा करने को भी कहा है. 

बता दे कि भारत कि विदेश मंत्री सुषमा स्वराज विदेशों में रह रहे भारतीयों की हमेशा मदद के लिए जानी जाती है. जिसमे सोशल नेटवर्किंग के माध्यम से हो या किसी और माध्यम से जब भी कोई सुषमा स्वराज तक अपनी बात पहुंचाता है तो सुषमा उस पर तुरंत एक्शन लेते हुए मदद करती है. उनके इस कार्य के लिए दूसरे देश के लोग भी उनकी जमकर तारीफ कर चुके है. 

पढ़िए देश-विदेश से जुड़ी छोटी-बड़ी ताज़ा खबरे न्यूज़ ट्रैक पर सीधे अपने मोबाइल पर 

Video : देखिये जब Politicians बन जाये Teacher तो क्या होगा?

हिंद महासागर सम्मेलन के लिए कोलंबो रवाना हुई सुषमा स्वराज

हार्वे तूफान में फंसे भारतीयों के लिए सुषमा स्वराज सतत संपर्क में

मैं सुषमा स्वराज का किरदार नहीं निभा रही, तब्बू

सुषमा स्वराज के पति से पसंदीदा नेता का नाम पूछने पर मिला यह जवाब

 

रिलेटेड टॉपिक्स