बिक्री घटी लेकिन फिर भी बढ़ रहे दालों के भाव

नई दिल्ली : मानसून में नरमी के चलते फसल को भी काफी नुकसान का सामना करना पड़ा है. और फसल में उत्पादन की कमी के कारण कीमतों में जबरदस्त उछाल भी देखने में आया है. बात करें दालों की आपको बता दे कि दालों का उत्पादन भी कम हुआ है जिस कारण इसके भावों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है. मामले में यह भी देखा जा रहा है कि दालों के भाव इस तरह से बढ़ने के कारण अब लोग दाल की जगह कोई अन्य विकल्प भी तलाशने में लग गए है. इसके साथ ही बाजार से यह खबर सामने आ रही है कि दालों की बिक्री में बहुत अधिक गिरावट आई है.

बिक्री में गिरावट के बायजूद भी इसके भाव आसमान छू रहे है. साथ ही इस मामले में कारोबारियों का यह कहना है कि त्यौहारी सीजन की शुरुआत हो रही है और इस दौरान भावों में और भी बढ़ोतरी हो सकती है. साथ ही कारोबारियों का यह भी कहना है कि पहले की तुलना में अब दालों की बिक्री में 30 फीसदी की गिरावट देखने को मिल रही है. यह गिरावट लगभग सभी दालों में देखने को मिल रही है. इसके तहत अरहर दाल की कीमत 150 रूपये प्रति किलो को पर कर चुकी है.

महंगाई के कारण ही यह भी देखने को मिल रहा है कि पिछले एक हफ्ते के दौरान दालों की खुदरा कीमत करीब 5 फीसदी बढ़ चुकी है. सरकार के द्वारा भी इस मामले में काफी प्रयास किये जा रहे है लेकिन फिर भी कीमत बढ़ते ही जा रही है. आपको इस मामले में बता दे कि जहाँ अरहर दाल पहले 142 रुपये किलो पर थी वहीँ अब इसकी कीमत 160 रुपये किलो हो चुकी है, साथ ही बात करें उड़द दाल की तो आपको बता दे कि जहाँ पहले यह 110 रुपये किलो में उपलब्ध हो रही थी वहीँ अब यह 117 रुपये प्रति किलो पर पहुँच गई है. इसको देखते हुए सरकार भी दालों के आयात को लेकर गंभीर हुई है. और आयात को लेकर यह भी कहा जा रहा है कि जैसे ही दाल देश में आना शुरू हो जाती है वैसे-वैसे भाव में भी कमी देखने को मिलेगी.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -