विभिन्न देशों के प्रतिनिधियों के साथ कल बोधगया जाएंगे PM मोदी

Sep 04 2015 03:53 PM
विभिन्न देशों के प्रतिनिधियों के साथ कल बोधगया जाएंगे PM मोदी

गया : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को 'ज्ञानस्थली' बोधगया आ रहे हैं। प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर बोधगया में सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। दिल्ली में अंतर्राष्ट्रीय बौद्घ सम्मेलन के बाद मोदी के साथ विभिन्न देशों के प्रतिनिधि भी बोधगया आ रहे हैं। पटना हवाईअड्डे से महाबोधि मंदिर परिसर तक के मार्ग को 'पंचशील ध्वज' से सजाया जा रहा है। बोधगया स्थित अन्य विदेशी बौद्घ मठों में भी प्रधानमंत्री के स्वागत की तैयारी की गई है। बोधगया मंदिर प्रबंधन समिति के सचिव एऩ दोरजे ने बताया कि प्रधानमंत्री और उनके साथ आने वाले विदेशी प्रतिनिधि महाबोधि मंदिर में पूजा-अर्चना के पश्चात बौद्घस्थलों की खोज करने वाले ह्वेनसांग के वृत्तांत का अवलोकन भी करेंगे।

उन्होंने बताया कि नव नालंदा महाविहार द्वारा ह्वेनसांग के वृत्तांत की सचित्र व डॉक्यूमेंट्री के माध्यम से जानकारी दी जाएगी। महाविहार के निदेशक डॉ. रविंद्र पंत व दीपक आनंद के नेतृत्व में मंदिर परिसर स्थित दीप घर के समीप एक प्रदर्शनी लगाई जाएगी, जिसमें बौद्घ स्थल व खुदाई के दौरान मिली बुद्घ की मूर्तियों के चित्र रहेंगे। इस क्रम में प्रधानमंत्री महाबोधि वृक्ष के नीचे ध्यान भी लगाएंगे। दोरजे ने बताया कि प्रधानमंत्री के साथ आने वाले विदेशी प्रतिनिधियों में श्रीलंका के पूर्व राष्ट्रपति चंद्रिका कुमारतुंगा, जापान, म्यांमार, भूटान व नेपाल के मंत्रियों सहित करीब 80 देशों के प्रतिनिधि शामिल रहेंगे।

गया के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक निशांत कुमार तिवारी ने बताया कि प्रधानमंत्री के आगमन को लेकर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। बोधगया में अतिरिक्त 1500 पुलिस जवानों की तैनाती की गई है। उन्होंने बताया कि स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) ने गुरुवार शाम से महाबोधि मंदिर परिसर को अपनी सुरक्षा में ले लिया है। मान्यता है कि बोधगया के महाबोधिवृक्ष के नीचे भगवान बुद्घ ने ज्ञान प्राप्त किया था।