मदरसे के 6 छात्रों ने ही मौलाना को दी दर्दनाक मौत, पुलिस के सामने खोला दिल दहला देने वाला राज़
मदरसे के 6 छात्रों ने ही मौलाना को दी दर्दनाक मौत, पुलिस के सामने खोला दिल दहला देने वाला राज़
Share:

अजमेर: राजस्थान की अजमेर पुलिस ने 27 अप्रैल को मोहम्मदी मस्जिद के इमाम मौलाना मोहम्मद माहिर (32) की कथित तौर पर हत्या करने के आरोप में रविवार (12 मई) को छह नाबालिग मदरसा छात्रों को गिरफ्तार किया। पुलिस ने मोहम्मद माहिर का मोबाइल फोन और वह रस्सी भी बरामद कर ली, जिसका इस्तेमाल कथित तौर पर मौलवी का गला घोंटने के लिए किया गया था।

रिपोर्ट्स के मुताबिक, मदरसे के सभी छात्र हत्या को लेकर अलग-अलग कहानी बता रहे थे।  छात्रों ने दावा किया कि तीन नकाबपोश लोग मदरसे में पहुंचे, मोहम्मद माहिर की हत्या कर दी और उन्हें चुप रहने की धमकी दी। अजमेर के पुलिस अधीक्षक (SP) देवेन्द्र कुमार बिश्नोई ने कहा कि यह मामला अजमेर पुलिस के विशेष दस्ते के लिए एक संघर्ष था, क्योंकि सैकड़ों CCTV फुटेज को स्कैन करने और मोहम्मद माहिर की पृष्ठभूमि की जांच करने के बावजूद कुछ भी सामने नहीं आ रहा था, जो उत्तर प्रदेश का था और पिछले आठ वर्षों से मदरसे में रह रहा था। SP ने कहा कि, “लेकिन, हमने छात्रों को विश्वास में लिया, जिन्होंने धीरे-धीरे सब कुछ बता दिया।”

SP बिश्नोई ने आगे कहा कि, 'मदरसे के छात्रों में से एक का हाल ही में उत्तर प्रदेश के शाहबाद के रामपुर गांव के मोहम्मद माहिर ने यौन शोषण किया था। जब पीड़ित छात्र ने अपने घर वालों को सबकुछ बताने की धमकी दी तो माहिर ने उसे पैसों का लालच दिया। उसके नियमित उत्पीड़न से परेशान होकर छात्रों ने माहिर की हत्या करने का फैसला किया। उन्होंने उसे डंडे से बुरी तरह पीटा और रस्सी से गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी।'' सभी छात्रों ने बताया कि, मौलाना उन्हें गन्दी फ़िल्में दिखाकर उनका यौन शोषण करता था

बिश्नोई के अनुसार, छात्रों ने पुलिस को बताया कि वे मौलाना पर नाराज और गुस्से में थे, क्योंकि माहिर नियमित रूप से छात्रों का यौन शोषण करता था। रिपोर्ट्स के मुताबिक, हत्या से दो दिन पहले माहिर उत्तर प्रदेश स्थित अपने गांव से लौटा था। 26 अप्रैल को छात्रों ने एक मेडिकल दुकान से नींद की दवाएं खरीदीं, लेकिन माहिर पहले ही बाहर खाना खा चुका था। जब वे लौटे तो छात्रों ने उन्हें दही और गोलियाँ दीं।

थोड़ी देर बाद मौलाना को नींद आ गई। इसके बाद छात्र भंडार कक्ष में गए और एक छड़ी और रस्सी ले आए। सोते समय उन्होंने उसके सिर पर डंडे से हमला कर दिया। मौलाना ने खड़े होने का प्रयास किया, लेकिन छात्रों ने उसकी गर्दन के चारों ओर रस्सी लपेट दी और उसका गला घोंट दिया। बाद में वह बेहोश हो गया। यह पुष्टि करने के बाद कि उसकी दिल की धड़कन रुक गई है, वे कमरे से चले गए। हालाँकि, यह घटना तब सामने आई, जब मदरसे के तोशिफ अशरफ ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई।

साइबर अपराधों का बड़ा भंडाफोड़, 40,000 फर्जी सिम कार्ड के साथ अब्दुल रोशन गिरफ्तार

'जिसे कहूं उसे ही वोट देना होगा..', भाजपा समर्थक की पीट-पीटकर हत्या, सपा कार्यकर्ताओं पर आरोप !

व्हाट्सएप मैसेज को लेकर हुआ विवाद, सलमान की चाक़ू मारकर हत्या, शाहरुख़ की हालत नाजुक

 

रिलेटेड टॉपिक्स
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -