अब बच्चों के कन्धों से कम होगा बैग का बोझ, सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन
अब बच्चों के कन्धों से कम होगा बैग का बोझ, सरकार ने जारी की नई गाइडलाइन
Share:

आजकल स्कूलों में बच्चों के बैग पर ज्यादा वजन उठाने के लिए दे दिया जाता है। बच्चों को बैग के अधिक वजन के चलते कमर में दर्द और कंधे में दर्द की शिकायत भी पैदा हो जाती है। जिसको लेकर माता-पिता भी परेशान थे, लेकिन अब इससे राहत देने के लिए लोक शिक्षण संचालनालय ने स्कूल बैग पॉलिसी का आदेश भी पेश कर दिया है।

लोक शिक्षण संचालनालय द्वारा निर्धारित बैग का वजन
पहली कक्षा- 1.6-2.2 किलो.
दूसरी कक्षा- 1.6-2.2 किलो.
तीसरी कक्षा- 1.7-2.5 किलो.
चौथी कक्षा- 1.7-2.5 किलो.
पांचवीं कक्षा- 1.7-2.5 किलो.
छठवीं कक्षा- 2-3 किलो.
सातवीं कक्षा- 2-3 किलो.
आठवीं कक्षा- 2.5-4.0 किलो.
नौवीं कक्षा- 2.5-4.5 किलो.
दसवीं कक्षा- 2.5-4.5 किलो.

इतना ही नहीं विभाग द्वारा कक्षा 11वीं और 12 वीं क्लास के बैग के वजन की सीमा स्कूल तय करने वाले है। इस पॉलिसी को सभी प्राइवेट और सरकारी स्कूलों में चस्पा किया जाने वाला है। सप्ताह में एक दिन बच्चों को बिना बैग के स्कूल जाना पड़ेगा। निर्देशों का पालन नहीं करने पर कार्रवाई की जाने की बात भी बोली गई है। सभी जिला शिक्षा अधिकारियों को औचक निरीक्षण का भी निर्देश  भी जारी कर दिया गया है।

अंधे को रास्ता दिखाएगा एआई रोबोट डॉग, जानिए कैसे लेता है कमांड

35 बीएचपी की यह पावर बाइक 3 लाख से कम में आती है, एडवेंचर के लिए बेस्ट

डीजल कार का इंतजार? जल्द लॉन्च होंगी ये 5 गाड़ियां!

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
Most Popular
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -