केंद्र की कठपुतली बनकर नहीं रह सकता कोई भी मुख्यमंत्री : दिल्ली सरकार

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी (AAP) और केंद्र सरकार का विवाद खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है. AAP सरकार ने दिल्ली हाई कोर्ट से कहा है कि कोई भी मुख्यमंत्री केन्द्र सरकार के आदेशों पर कठपुतली बनकर नहीं रह सकता और उपराज्यपाल से केन्द्र के एजेंट के जैसा व्यवहार नहीं किया जा सकता. मुख्य न्यायाधीश जी रोहिणी और न्यायमूर्ति जयंत नाथ की पीठ के सामने दिल्ली सरकार ने कहा कि उपराज्यपाल केन्द्र सरकार की तरफ से काम नहीं कर सकते और यह फैसला नहीं कर सकते कि राज्य को आवंटित शक्तियों का उपयोग कैसे किया जाए.

दिल्ली सरकार की ओर से वकील दयान कृष्णन ने सुनवाई के दौरान कहा कि उपराज्यपाल या राज्यपाल से भारत संघ के एजेंट की तरह व्यवहार नहीं किया जा सकता. वह भारत संघ की तरफ से काम नहीं कर सकता और भारत संघ द्वारा उसका प्रतिनिधित्व नहीं किया जा सकता क्योंकि यह संविधान के मौलिक ढांचे के खिलाफ है. बता दें कि कोर्ट में दिल्ली सरकार और उपराज्यपाल के बीच 7 मामलों पर सुनवाई की जा रही है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -