यूएस एंबेसी में काम कर चुकी लीना को उसके ही मामा ने मारा था

भोपाल: अमेरिकन एंबेसी स्कूल की पूर्व इम्प्लॉय लीना शर्मा की बॉडी सतपुड़ा के जंगलों से बरामद की गई है. 29 अप्रैल को लीना मध्य प्रदेश के सोहागपुरा से लापता हो गई थी. हत्यारों ने शव को जंगल में एक नाले के नीचे दबा दिया था. बॉडी को गलाने के लिए उस पर नमक भी छिड़क दिया गया था।

पुलिस ने बताया कि सोहागपुर में जमीन की फेंसिंग के दौरान लीना की हत्या हुई थी. पुलिस ने लीना के मामा समेत तीन लोगों को हत्या के जुर्म में गिरफ्तार किया है. लीना की हत्या 29 अप्रैल को सुबह की गई थी. घटना तब हुई, जब 38 साल की लीना अपनी पुश्तैनी जमीन की फेंसिंग करा रही थीं।

तभी वहां उसके मामा प्रदीप शर्मा आए और दोनों के बीच कुछ विवाद हुआ. पुलिस की मानें तो लीना को गुस्सा आया और उसने प्रदीप को पकड़ लिया. इस पर प्रदीप के नौकर गोरेलाल ने लीना के सिर पर जोर से एक डंडा मारा, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

नौकर लीना के शव को जंगल में ले गया और उसके कपड़े जलादिए और लाश को गाड़ दिया. सोहागपुर लीना का होमटाउन है औऱ वो अपने जमीन की नपती कराने गई थी. पुलिस ने लीना के शव के पास से घड़ी, जुते व ब्रेसलेट भी बरामद किए।

लीना के दोस्तों ने बताया कि लीना और उसके माम के बीच 36 एकड़ जमीन को लेकर विवाद चल रहा था. लीना के दोस्त यश आर्या के मुताबिक, लीना जल्द ही शादी करने वाली थीं. उसने फाेन पर बताया था कि वह घर बसाने का मन बना रही हैं।

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेन ट्रेड से ग्रैजुएट लीना यूएस एम्बेसी में असिस्टेंट मैनेजर के पद पर काम कर चुकी हैं. लीना के दोस्तों का आरोप है कि पुलिस ने लीना को ढूंढने में पहले चुस्ती नहीं दिखाई और लापरवाही करती रही. लीना को ढूंढने के लिए उनके दोस्तों ने फेसबुक पर #saveleena कैंंपेन चलाया था।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -