मेरा सपना

By Rahul Savner
Oct 19 2015 12:10 PM
मेरा सपना

सपना मेरा कितना सुहाना है

बारिश में तेरे संग भीगना है

गिरे तेरे होठो पर बारिश की बुँदे

उन्हें अपने होठो से उठाना है

इस तरह बट गए है दुनिया वाले

अगर खुदा भी आकर कहे की

में भगवान हुँ

तो भी लोग पूछ लेंगे किसके