"मंगलसूत्र छोड़ने और गौ मांस खाने" वाले कार्यक्रम पर रोक

Apr 13 2015 05:11 AM
style="text-align: justify;">तमिलनाडू/चेन्नई : तमिलनाडु में द्रविड़ कंझगम पार्टी ने 14 अप्रैल को ‘मंगलसूत्र त्याग और गौ मांस भोजन’ कार्यक्रम का आयोजन करने का निर्णय लिया था. इस कार्मक्रम की तैयारियां भी हो गई थी, लेकिन हाल ही में तमिलनाडू पुलिस ने पार्टी के इस कार्यक्रम पर बेन लगा दिया है. साथ ही पुलिस ने संगठन के नेता के. वीरामणि को गिरफ्तार कर लिया है. वीरामणि पर सम्प्रदायों के बीच दुश्मनी पैदा करने का आरोप लगाया गया है. चेन्नई के एसीपी अयप्पन ने इस कार्रवाई की पुष्टि की है. पुलिस के अनुसार अगर 14 अप्रैल को यह कार्यक्रम होता तो इससे समाज में नफरत फ़ैल सकती थी. 

इसलिए हमने इस कार्यक्रम पर बेन लगाया है. इसके अलावा पुलिस का यह भी कहना है कि पार्टी ने इस कार्यक्रम के लिए सही तरीके से अनुमति नहीं ली थी. बता दे कि द्रविड़ कंझगम पार्टी द्वारा आयोजित किए जाने वाले ‘मंगलसूत्र त्याग और गौ मांस भोजन’ कार्यक्रम का हिन्दू संघठनो ने जमकर विरोध किया है. इसके अलावा संघ परिवार से जुड़े हिंदू मुन्नानी संगठन ने भी पार्टी को इस कार्यक्रम को रोकने की चेतावनी दी थी. जैसे-जैसे कार्यक्रमका दिन नजदीक आ रहा था, इस कार्यक्रम को लेकर तनाव बड़ रहा था. कई हिंदू संगठनों और शिवसेना ने पार्टी को चेतावनी दे डाली थी. कुछ हिन्दू संगठनो ने एक टीवी चैनल के ऑफिस पर भी हमला किया था. वहीँ दूसरी तरह कार्यक्रम बेन करने के खिलाफ द्रविड़ कंझगम पार्टी ने मद्रास हाईकोर्ट में याचिका दायर की है. अनुमान लगाया जा रहा है कि इस कार्यक्रम में पार्टी की महिला कार्यकर्ता अपने मंगलसूत्र का त्याग कर सकती है.