ऐसे लोगों को भूत, प्रेत देते हैं पीड़ा

Jan 09 2019 08:30 PM
ऐसे लोगों को भूत, प्रेत देते हैं पीड़ा

कहते हैं भूत, प्रेत और पिशाच पर बहुत से लोग विशवास करते हैं और बहुत से लोग नहीं. ऐसे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं कि किन लोगो को भूत, प्रेत और पिशाच देते हैं पीड़ा. आइए बताते हैं.


# कहते हैं छठे स्थान पर राहू शनि की युति प्रेत पिशाच पीड़ा भय.

# कहा जाता है सातवें स्थान में शनि पत्नी के प्रेत (चुड़ैल) से पीड़ा और पत्नी को पति के प्रेत (भूत) से पीड़ा का कारण बनते हैं.

# ऐसा कहा जाता है कि अशुभ बृहस्पति नवमेश (भाग्येश होकर 8, 12 भाव में स्थित हो) तो प्रेत परेशान करते हैं.

# कहते हैं पाप ग्रह कुंडली के अशुभ भावेश होकर केंद्र त्रिकोण में स्थित हो तो प्रेत परेशान करते हैं.

# कहा जाता है चंद्रमा निर्बल, क्षीण, अस्त, नीचराशि वृश्चिक में, शत्रु राशि में पापयुत दुष्ट पापग्रह की राशि में होकर 6, 8, 12 भावों में हो.

# ज्योतिषों के अनुसार लग्न लग्नेश पर पाप ग्रहों का प्रभाव स्थिति युति दृष्टि और लग्नेश का नीच राशि होकर 6, 8, 12 भावों में स्थित होना, लग्न में नीच राशि ग्रह, वक्री ग्रह 6, 8,12 के भावेश स्थित होना भी प्रेतों को बुलावा देता है.

# ज्योतिषों के अनुसार बुध को छोड़कर कोई शुभग्रह केंद्र में स्थित नहीं है तो ऐसा होता है.

आज बुलंदी छुने वाले हैं इन राशियों के सितारें

अगर आपकी भी रिंगफिंगर के नीचे है यह रेखा तो करोड़ो के मालिक बनने वाले हैं आप

जानिए क्यों, हनुमान जी को इतना प्रिय है मंगलवार ?