ब्रिटेन को गिफ्ट में नहीं दिया था कोहिनूर
ब्रिटेन को गिफ्ट में नहीं दिया था कोहिनूर
Share:

नई दिल्ली। कोहिनूर को ब्रिटेन से भारत लाने की तैयारी चल रही है। इस मामले में विदेश मंत्रालय की बैठक आयोजित की गई। जिसमें विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और महेश शर्मा सम्मिलित हुए। इस मामले में यह जानकारी सामने आई है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हीरे को वापस लाने के लिए प्रयास करने की बात कही है। उन्होंने निर्देश दिया है कि बंगाल हेरिटेज की ओर से जो याचिका दायर की गई है उस पर सुनवाई करते हुए यह कहा गया कि इस तरह के मामले की सुनवाई इस माह होना है।

इस मामले में जानकारी सामने आई है जिसमें बंगाल हेरिटेज ने कहा है कि महाराजा दिलीप सिंह ने इस हीरे को उपहार में ईस्ट इंडिया कंपनी को नहीं दिया था इसे उपहार देने के लिए मजबूर किया गया था। कोहिनूर से जुड़े पुराने दस्तावेज को लेकर भी इस तरह की जानकारी दी गई। केंद्र सरकार को इस मसले पर अंतर्राष्ट्रीय फोरम जाने की बात कही।

उल्लेखनीय है कि कोहिनूर हीरा अपनी सुंदरता के लिए विश्वभर में आकर्षण का केंद्र रहा है। पहले इसे ब्रिटेन की महारानी अपने ताज में पहना करती थी मगर बाद में इसे म्युज़ियम में रख दिया गया और अब इसकी प्रतिकृति को ताज में पहना जाता है। उल्लेखनीय है कि करीब 800 वर्ष पूर्व 105 कैरेट का हीरा भारत की खदान से निकाला गया अंग्रेजी राज में इस हीरे को तत्कालीन महारानी विक्टोरिया को भेंट कर दिया गया।

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -