केंद्र के खिलाफ केजरी ने खोला विरोध का अभियान

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा देश के विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों को सम्मेलन में निमंत्रित किया गया। इस दौरान उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा राज्यों के साथ भेदभाव करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार को राज्यों के साथ तालमेल रखना चाहिए। यही नहीं बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार द्वारा चुनावी व्यस्तता के कारण इस सम्मेलन में भागीदारी नहीं की गई। दूसरी ओर अरविंद केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा इस मामले में जमकर हमला किया गया। केंद्र सरकार द्वारा राष्ट्रद्रोह पर चर्चा की गई।

शासकीय अधिकारियों को राज्य सरकार के विरूद्ध सभी को विश्वसनीय बनाया गया है। यही नहीं आम आदमी पार्टी के विधायकों पर केंद्र सरकार तरह तरह के आरोप लगा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार सहयोग नहीं कर रही है। जब राज्य सरकार विद्यालय विकास के लिए जमीन मांगती है तो उसे नहीं दी जाती। उनका कहना था कि वे केंद्र सरकार के विरूद्ध नहीं है लेकिन उसे पूरी तरह से उन्हें विकेंद्रीकरण करना होगा। केंद्र सरकार राज्यपाल को अपने एजेंट के तौर पर प्रस्तुत कर रही है। यह उचित नहीं है। 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -