कार्तिक की हत्या फिरोती के कारण नहीं हुई: इंदौर पुलिस

इंदौर/महेश्वर: कार्तिक अपहरण/हत्या मामले में पुलिस की पूछताछ में नया खुलासा हुआ है. मेडिकल स्टोर संचालक अशोक मिश्रा के पुत्र कार्तिक की अपहरण के बाद हत्या के मामले में पुलिस ने कुल 5 आरोपियों को पकड़ा है. कार्तिक का शव हत्या के बाद नर्मदा में मिला था. 

पुलिस ने सुरगो का पीछा करते हुए 5 अपहरणकर्ताओं को उनके मोबाइल फ़ोन लोकेशन से पकड़ा. आरोपियों में से 2 आरोपियों ने अपना गुनाह कबूलते हुए पुरे घटना क्रम का खुलासा किया. अपहरणकर्ताओ ने कार्तिक की हत्या सिर्फ पैसो के लिए की. अपहरणकर्ताओं को परिवार जनता भी है. 

पुलिस के मुताबिक कार्तिक का स्कूल के बाद अपहरण करने के बाद अपहरणकर्ताओं ने चाकू से गाला रेत कर हत्या की. हत्या के बाद शव को नर्मदा में फेक दिया था जो महेश्वर में जा कर मिला. अपहरण एक फोर वहीलर में किया गया था. पुलिस ने बताय की मामला अभी भी नहीं सुलझा है. पुलिस की यह दलील है की अपहरणकर्ताओ को फिरोती ही चाहिए थी तो कार्तिक की इतनी  जल्दी हत्या क्योंकी. पुलिस को अभी भी मामले में कुछ अन्य पहलू खुलने की आशंका है.      

Most Popular

- Sponsored Advert -