जापानी महिला से दुष्कर्म मामले में आरोपियों को मिली 20-20 साल की कैद

जयपुर : राजस्थान के खूबसूरत शहरों में शुमार जयपुर में घूमने आई एक जापानी युवती के साथ 8 फरवरी 2015 दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया गया था तथा तभी से ही जयपुर में विदेशी पर्यटकों की सुरक्षा को लेकर कई सवाल खड़े हो रहे थे, सरकार व पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए घटना के नौ दिन के भीतर ही अदालत में चार्जशीट फाइल कर दी थी इस दुष्कर्म के बाद आज जिला एवं सत्र न्यायालय, जयपुर का ऐतिहासिक फैसला आया, कोर्ट ने फर्जी गाइड बनकर जापानी पर्यटक को बरगलाने व उसके साथ दुष्कर्म करने वाले आरोपी समेत उसके 2 और सहयोगियों को अदालत ने 20-20 साल के कारावास की सजा सुनाई है। तथा आरोपियों के विरुद्ध जयपुर महानगर के सत्र न्यायालय में पिछले सात महीनों से डिबेट चल रही थी. 

गौरतलब है की यह बीस साल की जापानी युवती जयपुर में घूमने आई थी व आठ फ़रवरी को दुष्कर्मी अजीत सिंह चौधरी ने महिला को बरगलाकर उसकी तरफ दोस्ती का हाथ बढ़ाया व उसके साथ मौजमाबाद में मारपीट कर दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया. 

आगे उसने प्लानिंग कर अपने दोस्तों को फोन लगाकर युवती के साथ सामूहिक दुष्कर्म की योजना बनाई व उसी दौरान एक अनजान कार की लाइट पड़ी व वे सभी वहां से भाग गए व जापानी लड़की हेल्प हेल्प चिल्लाने लगी. तभी वहां मोटरसाइकल से गुजर रहे शब्बीर नामक शख्स ने युवती को देखा व उसे एक वकील के पास छोड़ा व वकील ने पीड़िता की पूरी बात सुनकर इसकी शिकायत मौजमाबाद थाने में दर्ज की.   

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -