Share:
जमात-ए-इस्लामी के मीर कासिम अली को दी गई फांसी की सजा
जमात-ए-इस्लामी के मीर कासिम अली को दी गई फांसी की सजा

ढाका: बांग्लादेशी संगठन जमात-ए-इस्लामी के मुख्य फाइनेंसर और मीडिया हस्ती मीर कासिम अली को फांसी दे दी गई है.  कासिम को 1971 में हुए मुक्ति संग्राम के दौरान गलत भूमिका को फांसी की सजा सुनाई गई थी. कासिम को फांसी देने का अंतिम आदेश जेल अधिकारियों को सौंपा गया था.

जानकारी के अनुसार, फांसी से जेल अधिकारियों ने कासिम अली मीर के परिवार को अंतिम बार मिलने के लिए बुलाया था. सभी प्रक्रिया पूरी करने के बाद ढाका के बाहरी इलाके में मौजूद काशीमपुर केन्द्रीय कारागार में कड़ी सुरक्षा के बीच कासिम को फांसी से फंदे से लटका दिया गया. बांग्लादेश के एक चैनल ने जेल के एक अधिकारी के हवाले से कहा कि उसके परिवार के 22 सदस्य उससे अंतिम बार मिलने जेल पहुंच थे. कासमिल अली को काशीमपुर केन्द्रीय कारागार के काल-कोठरी में रखा गया था.

गौरतलब है कि बांग्लादेश सरकार की ओर से 1971 के युद्ध अपराधियों के खिलाफ 2010 में शुरू हुई कार्रवाई के बाद से अभी तक 5 युद्ध अपराधियों को फांसी दी जा चुकी है. कासिम अली पर आरोप था कि मुक्ति संग्राम के दौरान जमात की छात्र शाखा इस्लामी छात्र संघ के युवा नेता के तौर पर अली ने लोगों के जेहन में डर भर दिया था और उन्होंने स्वतंत्रता के लिए संघर्ष करने वाले लोगों का बर्बर तरीके से दमन किया था.

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -