इस्लाम के ही खिलाफ कार्य कर रहा है इस्लामिक स्टेट आॅफ इराक

May 03 2015 01:07 PM
इस्लाम के ही खिलाफ कार्य कर रहा है इस्लामिक स्टेट आॅफ इराक

बगदाद : आतंकी संगठन आईएसआईएस द्वारा एक बार फिर नृृशंस तरीके से आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने की बात सामने आई है। आईएसआईएस के आतंकियों ने करीब 600 कैदियों को सामूहिक तरीके से मार डाला। इन कैदियों को मारने के लिए आईएसआईएस ने बेहद अमानवीय तरीके से इन यजीदी कैदियों को मार दिया है। सीरिया में अपनी लड़ाई को आगे बढ़ाने के साथ आतंकी संगठन आईएसआईएस कई बार बेहद अमानवीय हो रहा है।

लगता है वह अपने उद्देश्य से ही भटक गया है। आईएसआईसएस की कार्रवाई को देखकर यह बात समझ ही नहीं आती कि आखिर वह चाहता क्या है। इस्लाम के प्रसार की बात करता है लेकिन लोगों की नृशंस हत्याऐं कर धरती को वीरान बनाने के प्रयास आईएसआईएस के लड़ाके कर रहे हैं।

इस्लाम जानने वालों का कहना है कि जो कुछ आईएसआईएस कर रहा है वह इस्लाम के भी खिलाफ है। इस्लाम का पाठ आईएसआईएस जैसी गतिविधियों को अंजाम देने की बात कभी नहीं करता। मामले में यजीदी कांग्रेस पार्टी ने भी आईएसआईएस की इन हरकतों की निंदा की है।

उन्होंने इसे जघन्य अपराध बताया है। मामले में इराक की सेना से हस्तक्षेप करने की मांग की गई है। इराक के आतंकी संगठन ने कहा कि यजीदी कैदियों को कब्जे में ले लिया। इससे पूर्व भारी संख्या में आईएसआईएस के आतंकी यजीदी कैदियों की एक साथ हत्या कर चुके हैं, यही नहीं यजीदी महिलाओं को पकड़कर आईएसआईएस के आतंकियों को सेक्स जिहाद के काम में लगाया जाता है।