Share:
दौरान सट्टेबाजी और जुए के विज्ञापनों को लेकर भारत सरकार ने जारी की एडवाइजरी
दौरान सट्टेबाजी और जुए के विज्ञापनों को लेकर भारत सरकार ने जारी की एडवाइजरी

नई दिल्ली: भारतीय सूचना और प्रसारण मंत्रालय (I&B) ने एक नई एडवाइजरी जारी की है जिसमें मीडिया संस्थाओं, विज्ञापन मध्यस्थों और सोशल मीडिया प्लेटफार्मों से सट्टेबाजी और जुए से संबंधित विज्ञापनों या प्रचार सामग्री का प्रसारण तुरंत बंद करने का आग्रह किया गया है। एडवाइजरी में चेतावनी दी गई है कि अनुपालन में विफलता के परिणामस्वरूप उचित कानूनी कार्रवाई हो सकती है।

मामले से परिचित सरकारी अधिकारियों ने इस बात पर जोर दिया कि इस सलाह की अवहेलना करने पर भारत सरकार द्वारा विभिन्न कानूनों के तहत कार्रवाई की जा सकती है। केंद्र ने क्रिकेट मैचों और महत्वपूर्ण खेल आयोजनों के दौरान सट्टेबाजी और जुआ प्लेटफार्मों के प्रचार में वृद्धि देखी। जवाब में, I&B मंत्रालय ने मीडिया संगठनों और सोशल मीडिया प्लेटफार्मों को ऐसे विज्ञापन दिखाने के प्रति आगाह किया है। यह सलाह विशेष रूप से सामयिक है क्योंकि इस महीने के अंत में एशिया कप क्रिकेट लीग आ रही है, जिसके बाद भारत में आईसीसी विश्व कप 2023 होगा।

एचटी (हिंदुस्तान टाइम्स) द्वारा देखी गई सलाह इस बात पर प्रकाश डालती है कि यह उन एजेंटों के खिलाफ सरकार की कार्रवाई से उत्पन्न हुई है जिन्होंने जुआ खेलने वालों से पर्याप्त धन एकत्र किया था। ऐसे विज्ञापन महत्वपूर्ण वित्तीय और सामाजिक-आर्थिक जोखिम पैदा करते हैं। मंत्रालय ने इन विज्ञापनों से जुड़ी कई अवैधताओं को नोट किया है, जिसमें काले धन का संभावित उपयोग भी शामिल है। इसमें इस बात पर जोर दिया गया है कि ये प्रथाएं मनी लॉन्ड्रिंग नेटवर्क से जुड़ी हैं, जो देश की वित्तीय सुरक्षा के लिए खतरा पैदा करती हैं। यह सलाह क्रिकेट टूर्नामेंट सहित प्रमुख खेल आयोजनों के दौरान सट्टेबाजी और जुआ प्लेटफार्मों के विज्ञापनों की अनुमति देने में कुछ मीडिया संस्थाओं, विज्ञापन मध्यस्थों और सोशल मीडिया प्लेटफार्मों की भूमिका को भी रेखांकित करती है।

1867 के सार्वजनिक जुआ अधिनियम के अनुसार, पैसे या सट्टेबाजी से जुड़े किसी भी प्रकार के जुए को अवैध माना जाता है। मीडिया प्लेटफार्मों पर विज्ञापन या ऐसी गतिविधियों को बढ़ावा देना उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम, 2019 और प्रेस काउंसिल अधिनियम 1978 सहित विभिन्न कानूनों का खंडन करता है। सार्वजनिक जुआ अधिनियम, एक केंद्रीय कानून, सार्वजनिक गेमिंग हाउस चलाने पर प्रतिबंध लगाता है। उल्लंघन पर रुपये तक का जुर्माना हो सकता है। 200 रु या अधिकतम तीन माह की कैद।

पांच मिनट के अंदर कैसे सो जाना सीखे?, जानिए

दिमाग को और ज़्यादा तेज़ करने के लिए 7 तकनीकें

चंद्रयान -1 ने चंद्रमा पर पानी की खोज कैसे की ?, जानिए

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -