RCEP के खिलाफ देशभर के किसानों ने खोला मोर्चा, कहा- बर्बाद हो जाएगा दूध उद्योग
RCEP के खिलाफ देशभर के किसानों ने खोला मोर्चा, कहा- बर्बाद हो जाएगा दूध उद्योग
Share:

नई दिल्ली: रीजनल कंप्रेहेंसिव इकनॉमिक पार्टनरशिप (RCEP) में भारत के शामिल होने के विरोध में सोमवार को पूरे देश के किसान सड़क पर उतरकर विरोध प्रदर्शन करेंगे. अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति ने चिंता जताई है कि यदि भारत आरसीईपी की संधि में शामिल होता है तो देश के कृषि क्षेत्र पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ेगा. इतना ही नहीं भारत का डेयरी उद्योग पूरी तरह से नष्ट हो जाएगा.

RCEP में भारत के शामिल होने पर किसान संगठनों ने कड़ी आपत्ति जताई है. किसानों का कहना है कि अगर ये संधि होती है तो देश के एक तिहाई बाजार पर न्यूजीलैंड, अमेरिका और यूरोपीय राष्ट्रों का कब्जा हो जाएगा और भारत के किसानों को इनके उत्पाद का जो दाम मिल रहा है, उसमें गिरावट आएगी. इसको देखते हुए देश में लगभग 250 किसान संगठन जिला और स्थानीय स्तर पर इसके विरोध में प्रदर्शन करेंगे.

किसान संगठनों का कहना है कि देश में किसानों की स्थिति पहले से ही बहुत खराब है. फसल नष्ट होने, सही मूल्य न मिलने और कर्ज के बोझ से दबे होने की वजह से किसानों के आत्महत्या करने की घटनाएं लगातार हो रही हैं. किसानों की दुर्दशा की अनदेखी कर सरकार किसानों को बर्बाद करने वाले आरसीईपी पर दस्तखत करने जा रही है. RCEP पर भारत के दस्तखत करने के बाद देश का डेयरी उद्योग पूरी तरह से तबाह हो जाएगा.

हफ्ते के पहले दिन सेंसेक्स में आया जबरदस्त उछाल, निफ्टी में भी आयी चमक

नवंबर महीने में 13 दिन बंद रहेंगे बैंक, यहाँ देखें छुट्टियों की पूरी लिस्ट

इस म्यूज़ियम में पायी जाती है अजीबो गरीब चीजें, जानकार उड़ जायेंगे होश

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -