Share:
बिहार से लेकर असम तक बाढ़, सेना कर रही मदद
बिहार से लेकर असम तक बाढ़, सेना कर रही मदद

नई दिल्ली : उतर-पूर्वी भारत पूरी तरह से जलमग्न हो गया है। नेपाल में हो रही तेज बारिश के कराण बिहार के 12 जिले बाढ़ सी प्रभावित हो रहे है। हालात ये है कि बचाव व राहत कार्य के लिए सेना को बुलाया गया है। उधर असम में ब्रह्मपुत्र नदी के जलस्तर में हुई बढ़ोतरी से 21 जिलों में तबाही आई हुई है। 16 लाख लोग असम में बेघर हो गए है।

अब तक 10 लोगों के मारे जाने की भी खबर है। बिहार में भी बाढ़ से अब तक 17 लोगों की जानें जा चुकी है। जम्मू-कश्मीर, हिमाचल, हरियाणा और पश्चिम बंगाल की नदियां भी उफान पर हैं। मौसम विभाग ने भोपाल समेत मध्य प्रदेश के 5 जिलों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है। बुधवार को नेपाल में भारी बारिश हुई, जिससे सारी नदियां उफान पर है।

नेपाल के 75 जिले बाढ़ से प्रभावित है। बुधवार को कई जगहों पर भूस्खलन की भी खबरें है। जिसमें अब तक 64 लोगों की मौत हुई है। नेपाल की सीमा से सटे उतर प्रदेश के कई गांवो में भी बाढ़ से असर हुआ है। असम सरकार ने इन हालातों से निपटने के लिए 472 रिलीफ कैंप बनाए है. जिसमें एक लाख से अधिक लोग शरण लिए हुए है।

करीब 2 लाख हेक्टेयर में लगी फसल बर्बाद हो चुकी है। मध्य प्रदेश के निमाड़ में लगातार दूसरे दिन भी बारिश जारी रहा। पानी बढ़ने से ओंकारेश्वर डैम के पांच गेट एक साथ खोले गए। यहां नर्मदा नदी सामान्य से 12 फीट ऊपर बह रही है। बुधवार की शाम को डैम खोलने से यमुना नदी का जल्सतर बढ़ गया। जम्मू-कश्मीर में भी कई नदियां उफान पर है।

श्रीनगर में लगातार दो दिन से बारिश हो रही है और पानी रिहायशी इलाकों में घुस गया है। उतराखंड के कालाढ़ूगी में दो बाइक सवार बुधवार को बारिश के बाद एक नाले में बह गए, जिन्हें लोगों ने बचाया। प्रदेश के पहाड़ी इलाकों में भारी बारिश हो रही है। देवप्रयाग में कई जगह सड़कें टूट गई हैं। केदारनाथ और बद्रीनाथ जाने वाले तीर्थयात्री बीच रास्ते में फंस गए हैं।

कई जगहों पर लैंडस्लाइड हुई। हैदराबाद में भी दो दिनों से लगातार बारिश हो रही है। शहर के कई इलाकों में पानी जमा होने से जाम की स्थिति बनी हुई है।

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -