मंदी के बाद भी खनन क्षेत्र में भारत है मजबूत स्थिति में
मंदी के बाद भी खनन क्षेत्र में भारत है मजबूत स्थिति में
Share:

नई दिल्ली : केंद्रीय मंत्री अरूण जेटली द्वारा राष्ट्रीय खनिज संगोष्ठी को संबोधित किया। उन्होंने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग कर उपस्थितों को संबोधित किया और महत्वपूर्ण बातें कहीं। इस दौरान उन्होंने कहा कि फिलहाल विश्वभर के खनिज क्षेत्र में मंदी का दौर है। खनिज पदार्थों के दाम गिर रहे हैं। दरअसल समूचा विश्व इस क्षेत्र में चुनौतीपूर्ण माहौल से गुजर रहा है। मगर भारत की अर्थव्यवस्था पर इसका प्रभाव नहीं हुआ। ब्रिटेन योरपीय यूनियन से जब अलग हुआ तो इस बात का प्रभाव विश्व पटल पर हुआ। हालांकि भारत पर इसका असर कम ही हुआ। भारत की अर्थव्यवस्था मजबूत बनी रही।

केंद्रीय मंत्री अरूण जेटली ने यह भी कहा कि उतार - चढ़ाव इस तरह से चलता रहा। उनका कहना था देश में मानसून का प्रारंभ हुआ है। आने वाले समय में देशभर के विभिन्न भागों में अच्छी बारिश हो सकती है। यदि भारत का विकास तेजी से होता है तो यह देश के लिए बेहतर होगा। केंद्रीय वित्त मंत्री द्वारा कहा गया कि बीते दो वर्षों में देश की खनिज नीति में सकारात्मक परिवर्तन हुए हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने खदानों के अवांटन में मनमाना कार्य होने की संभावनाओं को नकार दिया है।

इस मामले में यह कहा गया है कि खदानों के आवंटन में पहले आओ और पहले पाओ के आधार पर आवंटन होता है। उनका कहना था कि छत्तीसगढ़ खनिज संसाधनों से संपन्न है। दरअसल इस राज्य की अर्थव्यवस्था का अधार ही खनिज है। नई खनिज नीति से छत्तीसगढ़ को लाभ मिल सकता है। इतना ही नहीं खनिज का राज्य में वेल्यू एडिशन किया जाना चाहिए। इस मामले में केंद्रीय मंत्री द्वारा कहा गया कि भूगर्भ में दबे खनिजों की खोज की जाती है।

केंद्रीय मंत्री अरूण जेटली ने इस मामले में कहा कि छत्तीसगढ़ के कई क्षेत्र ऐसे हैं जहां पर प्रधानमंत्री खनिज क्षेत्र कल्याण योजना का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। इन क्षेत्रों में मसेनार, बड़ेकमेली, कड़मपाल, नेरली चोलनार में प्रधानमंत्री खनिज क्षेत्र कल्याण योजना के अंतर्गत स्वीकृत कार्यों का शुभारंभ किया गया। इस तरह की राशि से गांवों में 26 करोड़ की लागत से सड़क, स्कूल, सोलर लाईट व पेयजल जैसी सुविधाओं का विकास हुआ।

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -