पाकिस्तान में घुसकर कार्रवाई करे भारत : शिवसेना

पाकिस्तान में घुसकर कार्रवाई करे भारत : शिवसेना

मुंबई : शिवसेना ने हाल ही में अपने मुखपत्र सामना के माध्यम से केंद्र की मोदी सरकार की इच्छाशक्ति पर प्रश्न खड़े किए गए हैं। इस संबंध में उन्होंने कहा है कि लगातार सीमा पार से फायरिंग की जा रही है। आतंकी घुसपैठ कर रहे हैं। जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में आतंकियों से मुठभेड़ में सेना के जवान शहीद हो गए। ऐसे में हमें पाकिस्तान में घुसकर आतंकी कार्रवाईयों का मुंहतोड़ जवाब देने की आवश्यकता है, जिसके लिए मनोबल विदेशों से उधार नहीं लिया जा सकता। 

अब तो हिम्मत दिखाओ नाम से शिवसेना ने संपादकीय लिखा है। जिसमें कहा गया है कि सैनिकों का बलिदान देश को बेचैन व अस्वस्थ्य कर रहा है। सरकार द्वारा भी इसी तरह का कार्य किया जा सकेगा। शहीद जवानों के ताबूतों पर पुष्पचक्र अर्पित करने में किस तरह की बहादुरी है।

यही नहीं अपने संपदाकीय में संपादक ने यह भी उल्लेख किया कि भारतीय सेना बहुत सक्षम है। सेना सामथ्र्यवान है। जब म्यांमार में सीमा पार घुसकर भारत सैन्य कार्रवाई कर सकता है तो फिर पाकिस्तान के संदर्भ में भी यह किया जा सकता है। दूसरी ओर यह भी कहा गया है कि राजकीय इच्छाशक्ति भारत को बढ़ाने की जरूरत है। 

पार्टी द्वारा लिखा गया है कि भारत की लड़ाई पाकिस्तान की सेना से न होकर पाकिस्तान द्वारा भेजे गए प्रशिक्षित आतंकियों से की जा रही है। मगर पाकिस्तानी ही हम पर भारी पड़ रहे हैं। पाकिस्तान के विभिन्न मंत्री व हाफिज सईद जैसे आतंकी हिंदुस्तान को धमकियां दे रहे हैं। उनका मखौल उड़ाया जा रहा है।

हिंदुस्तान की सेना के सामथ्र्य की उन्हें याद दिलवाई जा रही है। आतंकियों से मुकाबला करने के साथ ही कई तरह की मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। कुपवाड़ा में आतंकी ढेर हो गया मगर इस मामले में 4 जवान शहीद हो गए। जम्मू - कश्मीर में पाकिस्तान समर्थित आतंकी जवानों को अपना शिकार बना रहे हैं। भारत और पाकिस्तान के बीच चर्चा की जा रही है लेकिन इस तरह की चर्चा में किसी को भी सफलता नहीं मिल सकी है।