'रात 1 बजे से सुबह 5 बजे तक उन्हें लड़ते हुए सुनता था...', ऋषि कपूर और नीतू को लेकर बेटे रणबीर का बड़ा खुलासा
'रात 1 बजे से सुबह 5 बजे तक उन्हें लड़ते हुए सुनता था...', ऋषि कपूर और नीतू को लेकर बेटे रणबीर का बड़ा खुलासा
Share:

बॉलीवुड फिल्मों के जाने माने मशहूर अभिनेता रणबीर कपूर भले ही बॉलीवुड फिल्म इंडस्ट्री के सबसे बड़े और मशहूर खानदान से ताल्लुक रखते हैं, किन्तु यहां तक पहुंचने का रास्ता उनके लिए सरल नहीं था। अपने करियर में रणबीर ने कई बेहतरीन फिल्में दी हैं। प्रोफेशनल लाइफ के साथ रणबीर अपनी निजी जिंदगी को लेकर भी खूब ख़बरों में रहे हैं। रणबीर ने कई बार अपने माता-पिता के रिश्ते को लेकर भी खुलकर चर्चा की है। 

उन्होंने ये भी बताया था कि वो अपने माता-पिता की शादी को कठिन दौर से गुजरते हुए देखकर बड़े हुए हैं। अपनी फिल्म 'एनिमल' की भांति ही रणबीर ने अपनी रियल लाइफ में भी अपने घर में टॉक्सिक माहौल देखा है तथा वह कई बार इसके बारे में बात कर चुके हैं। नीतू कपूर एवं ऋषि कपूर के बेटे, अभिनेता रणबीर कपूर ने फिल्म 'रॉकस्टार' की रिलीज के अवसर पर अपने एक इंटरव्यू में अपने माता-पिता की शादी शुदा रिश्ते पर खुलकर चर्चा की थी। साथ ही बताया था कि आने वाले दिनों में वो स्वयं को कहां पर देखते हैं। घर और माता-पिता के बीच किन बातों ने उन्हें सबसे अधिक परेशान किया। इस सवाल पर रणबीर ने कहा था, 'देखिए, उस समय, प्रेस से कोई फर्क नहीं पड़ता था, क्योंकि मैं भी फायर जोन में था। मैं अपने माता-पिता के साथ रहता हूं। उन्हें उस दौर से गुजरते हुए देखता हूं, मैं भी उन सब चीजों का एक हिस्सा रहा हूं। मैं वहीं था,'' रणबीर ने याद किया।'

इंटरव्यू में अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए रणबीर कपूर ने कहा, 'मैं एक बंगले में रहता हूं और मेरे माता-पिता नीचे रहते हैं, मैं ऊपर की मंजिल पर रहता हूं। मुझे याद है कि मैं 4-4 घंटों तक सीढ़ियों पर बैठा रहता था, रात 1 बजे से सुबह 5 बजे तक, उन्हें लड़ते हुए, चीजें तोड़ते हुए सुनता था... हर कोई इससे गुजरता है। बात बस इतनी है कि मेरे माता-पिता एक मशहूर सेलिब्रिटीज थे। इसलिए ये बातें अखबारों में छप जाती थीं तथा हेडलाइन बन जाती थी। फिर मेरे लिए स्कूल में जाना थोड़ा अजीब लगता था। भले ही आपके दोस्त इस बारे में बात नहीं न करें, क्योंकि वो आपके अच्छे दोस्त होते हैं, किन्तु कहीं न कहीं आपको पता होता है कि उनके मन में क्या चल रहा है और इससे कैसे निपटना है।'

रणबीर ने बताया, 'ये बहुत जरूरी है कि उनके माता-पिता ने अपने आपसी मनमुटाव को समाप्त किया। वो दोनों इस टॉक्सिक फेज से बाहर आए तथा उन्होंने फिर से साथ में प्यार, दोस्ती और सब कुछ हासिल किया।' बता दें कि आज भले ही ऋषि कपूर इस दुनिया में नहीं है, मगर नीतू और रणबीर उन्हें याद करने का एक भी मौका हाथ से नहीं देते हैं।

रणबीर कपूर की ‘रामायण’ में हुई इस मशहूर अदाकारा की एंट्री, दमदार होगा रोल

फ्रैक्चर होने के बावजूद रेड कार्पेट पर दिखा ऐश्वर्या राय का जलवा, माँ को संभालती नजर आई बेटी आराध्या

'सिर पर डाला गर्म पानी और....', गर्लफ्रेंड को लेकर साजिद खान का चौंकाने वाला खुलासा

रिलेटेड टॉपिक्स