Share:
हिंदू है इस लिए है बेरोज़गार
हिंदू है इस लिए है बेरोज़गार

इस्लामाबाद : पाकिस्तान के पेशावर में वर्तमान समय में 1200 से 1500 हिंदू परिवार निवास करते है जबकि ख़ैबर पख़्तूनख़्वाह प्रांत में इनकी तादाद 47,000 है. पेशावर का इतिहास देखे तो कभी इस शहर पर हिंदुओं का राज हुआ करता था मगर अब यहाँ हिन्दू पुराने शहर की तंग गलियों वाले मुहल्लों तक ही सीमित रह गए हैं. शहर में ज़्यादातर बाल्मिकी समुदाय के हिंदू निवास करते हैं और सबसे मशहूर मोहल्ला है कालीबाड़ी, शायद उस ऐतिहासिक कालीबाड़ी मंदिर की वजह से जो यहां आज भी मौजूद है. मोहल्ले में निवास करने वाले बिशन दास के घर जाकर हमारे संवाददाता ने देखा की वह अपनी पत्नी और बेटी संध्या के साथ अपने घर ही में बने छोटे से मंदिर में पूजा कर रहे थे. मंदिर एक छोटे से कमरे में बना हुआ था जो बैठक के लिए भी इस्तेमाल होता है. उनकी कालोनी एक कंपाउंड के अंदर बनी थी जिसमें दो-तीन कमरों वाले तक़रीबन तीन दर्जन घर थे.

डिग्री लेकिन नौकरी नहीं-

बिशन दास हलवाई का काम करते हैं. आमदनी अधिक नहीं होने के कारण वो अपने दिल की बीमारी का इलाज करने में असमर्थ हैं लेकिन उन्होंने बेटी को कांवेंट स्कूल में पढ़ाया और फिर यूनीवर्सिटी भेजा. संध्या ने यूनीवर्सिटी से MSC की डिग्री हासिल की. संध्या के पास काबिलियत तो बहुत है लेकिन उनके पास अच्छी नौकरी नहीं है. लेकिन परिवार का कहना है कि हिंदू होने की वजह से संध्या को उसी स्कूल में काम नहीं मिल पाया जहां से उन्होंने पढ़ाई की थी. अगर एक तरफ़ हिंदू नौजवानों को नौकरियां नहीं मिल रही हैं तो वहीं क़ानून व्यवस्था भी कुछ बेहतर नहीं है. इस मोहल्ले में हिंदू और ईसाई परिवार एक दूसरे के विरोधी नज़र आए.

मामूली बात पर क़त्ल-

एक और बाल्मिकी परिवार से बात करने पर पता चला कि पतंगबाज़ी के मामूली झगड़े में एक हिंदू नौजवान ईसाइयों के हाथों मारा गया. इस मामले में जेल गए लोग अब रिहा हो गए हैं. उनका कहना था कि जो लोग क़ातिलों का समर्थन कर रहे हैं वो ताक़तवर मुसलमान हैं इसलिए बात बढ़ जाने का ख़तरा भी है. इसी मामले पर मानवाधिकार कार्यकर्ता रख़शंदा नाज़ का कहना है, "ख़ैबर पख़्तूनख़्वाह में हिंदू समुदाय बेहद कम तादाद में और मुश्किल हालात में है. ये पाकिस्तान के शहरी हैं लेकिन इन्हें भारत-पाकिस्तान के राजनीतिक झगड़ों की वजह से शक़ की नज़र से देखा जाता है. ये इनके साथ ज़्यादती है."

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -