हिमाचल प्रदेश में बड़ा PPE किट घोटाला, भाजपा अध्यक्ष का इस्तीफा, स्वास्थय निदेशक गिरफ्तार

शिमला: हिमाचल प्रदेश भाजपा इकाई के अध्यक्ष राजीव बिंदल ने अपनी नियुक्ति के साढ़े चार महीने के अंदर ही बुधवार को अपने पद से तयपगपत्र दे दिया. बिंदल ने कहा कि वह अपने पद से इस्तीफा इसलिए दे रहे हैं क्योंकि सुनिश्चित करना चाहते हैं कि भ्रष्टाचार के कथित मामले में समुचित जांच हो. 

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा को भेजे इस्तीफे में बिंदल ने कहा है कि वह नैतिक आधार पर इस्तीफा दे रहे हैं क्योंकि कुछ लोग राज्य के स्वास्थ्य निदेशक द्वारा किए गए कथित भ्रष्टाचार में जबरन पार्टी का नाम घसीट रहे हैं, जबकि पार्टी का दामन पाक-साफ़ है.  बता दें कि राज्य सतर्कता और भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो द्वारा स्वास्थ्य सेवा के निदेशक अजय कुमार गुप्ता को 20 मई को अरेस्ट किया गया था. यह गिरफ्तारी तब हुई थी,  जब उनका 43 सेकेंड का एक ऑडियो रिकार्डिंग वायरल हुआ, जिसमें वह किसी शख्स से कथित तौर पर पांच लाख रुपये रिश्वत के लिए कह रहे थे. ये मामला पीपीई किट से सम्बन्धित है. स्वास्थ्य विभाग के निदेशक को पांच दिनों की पुलिस रिमांड में भेजा गया है. एक अधिकारी ने बताया कि गिरफ्तारी के बाद गुप्ता को राज्य सरकार ने ससपेंड कर दिया. 

राज्य विधानसभा अध्यक्ष के पद से इस्तीफा देने के बाद 18 जनवरी को प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बने बिंदल ने कहा कि उन्होंने इसलिए इस्तीफा दे दिया ताकि बिना किसी दबाव के मामले में उचित जांच हो. भाजपा ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष ने बिंदल का इस्तीफा मंजूर कर लिया है.

ये है पूरा मामला
कोरोना महामारी के बीच स्वास्थ्य निदेशक अजय गुप्ता के निर्देशन में परचेजिंग कमिटी ने 9 करोड़ के सप्लाई ऑर्डर दिए थे। इसमें मोहाली स्थित एक फर्म को पांच हजार PPE किट तैयार करने का ऑर्डर दिया गया था। हालांकि पूरे देश की 40 कंपनियों ने टेंडर प्रक्रिया में भाग लिया था। खास है कि ऑडियो में पांच लाख की दलाली भी इन्हीं पीपीई किट के सौदे के लिए की जा रही थी। दरअसल कोरोना से निपटने के लिए राज्य सरकार ने निदेशालय और जिला स्तर पर खरीद की रियायत दे रखी थी। विजिलेंस का कहना है कि स्वास्थ्य विभाग में हुई इस दलाली के तार जिला स्तर तक जुड़े हैं।

जांच की वजह से जेपी इंफ्राटेक को लग सकता है तगड़ा झटका

SBI : ब्याज दर को लेकर बैंक ने ग्राहकों को दिया तगड़ा झटका

इन तरीकों से कोरोना संकट में संभाल सकते है अपने आर्थिक हालत


 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -