ऑपरेशन ब्लू स्टार की 32 वीं बरसीं आज, अमृतसर बनी छावनी

अमृतसर ​: ऑपरेशन ब्लू स्टार की 32वीं बरसीं पर पूरे अमृतसर को छावनी की शक्ल दे दी गई है। कोने-कोने में वर्क फोर्स तैनात है। कट्टर सिख संगठन खालसा ने इस मौके पर सोमवार को बंद का ऐलान किया है। सुबह-सुबह सगंठन के लोगों ने खालिस्तान जिंदाबाद के नारे भी लगाए।

पुलिस ने बताया कि किसी भी मामले में दुकाीन या व्यवसायिक संस्थान बंद नहीं कराने दिए जाएंगे। पंजाब पुलिस ने सेफ साइड रखते हुए 130 लोगों को नजरबंद कर दिया है। इनमें से अधिकतर कट्टर सिख संगठन के ही लोग है। पुलिस ने रातभर छापेमारी की।

पुलिस ने खालसा, यूनाइटेड अकाली दल और शिरोमणि अकाली दल अमृतसर के कई नेताओं को हिरासत में लिया है। ऑपरेशन ब्लू स्टार की 32वीं बरसी को ध्यान में रखते हुए शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी सिविल और पुलिस प्रशासन के लोगों ने सुरक्षा इंतजामों को लेकर पहले से ही कई रणनीनतियां तैयार कर रखी है।

कानून व्यवस्था को दुरुस्त रखने के लिए 8000 पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है। इसके साथ ही पैरामिलिट्री फोर्सेज, आरएएफ, सीआरपीएफ और आईटीबीपी के वानों को भी तैनात किया गया है। गुरुद्वारा में भी सुरक्षा के लिए 500 कर्मचारियों को लगाया गया है।

गोल्डन टेंपल में पुलिस और खुफिया विभाग के लोगों को सादे कपड़ों में तैनात किया गया है। चप्पे-चप्पे पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए है। सुबह 7 बजे भोग सेरेमनी शुरू हुई। अकाल तख्त के जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह ने सिख समुदाय के लिए संदेश पढ़ा और अकात तख्त ने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -