श्रीनगर में पहली बार मनाया नए वर्ष का जश्न, दिखा अनोखा नजारा
श्रीनगर में पहली बार मनाया नए वर्ष का जश्न, दिखा अनोखा नजारा
Share:

श्रीनगर: नए वर्ष 2024 की शुरुआत हो गई है। आज वर्ष के पहले दिन देशभर में जश्न का माहौल है। लोग एक-दूसरे को नव वर्ष की शुभकामनाएं दे रहे हैं। मंदिर, गुरुद्वारा सहित सभी देवस्थानों में माथा टेकने एवं पूजा-अर्चना करने पहुंच रहे हैं। जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में लाल चौक पर लोगों ने नए वर्ष का जश्न मनाया है। इसी प्रकार, नई दिल्ली, गोवा, मुंबई, लखनऊ, अयोध्या, नोएडा, भोपाल, बेंगलुरु में लोगों ने नया साल का अभिनंदन किया। जम्मू कश्मीर में इस वक़्त में जबरदस्त सर्दी देखने को मिल रही है। शून्य से नीचे तापमान के बाद भी नए वर्ष की पूर्व संध्या पर सैकड़ों स्थानीय लोग और पर्यटक श्रीनगर के लाल चौक में घंटा घर पहुंचे। यहां 2023 की अंतिम शाम से जश्न का दौर आरम्भ हुआ तथा रात 12 बजे के बाद तक चलता रहा। 2019 से पहले घंटा घर पर होने वाली सभाएं अधिकतर विरोध प्रदर्शन या अलगाववादी घटनाओं से जुड़ी होती थीं, मगर रविवार का माहौल सबसे अलग और नया था।

22 वर्षीय आकिब अहमद ने कहा, यह पहली बार है कि हम किसी सार्वजनिक स्थान पर नए साल की पार्टी कर रहे हैं। हम पहले भी ऐसी पार्टियां करते थे, मगर वे एक वर्ग तक ही सीमित थीं। होटलों के बंद दरवाजों के अंदर पार्टियां होती थीं। आकिब ने लाल चौक पर बने मंच पर बज रहे गानों की धुन पर खूब थिरका। उन्होंने कहा, कुछ वर्ष पूर्व तक सार्वजनिक स्थान पर नए साल की पार्टी करना अकल्पनीय था मगर अब चीजें बदल गई हैं।

उन्होंने कहा, हर कोई जीवन में कुछ मनोरंजन करना चाहता है। चारों तरफ देखें तथा आपको जीवन के सभी क्षेत्रों के लोग मिलेंगे। आपके पास रूढ़िवादी दृष्टिकोण वाले लोग हैं और आपके पास आधुनिक नजर आने वाले लोग भी हैं। वे सभी अच्छा वक़्त बिता रहे हैं। ना सिर्फ शहरवासी, बल्कि घाटी के अन्य हिस्सों से भी कश्मीरी नए वर्ष के जश्न का आनंद लेने के लिए श्रीनगर आए हैं। अनंतनाग जिले के कोकेरनाग क्षेत्र के एक दूरदराज के गांव के निवासी लतीफ खटाना ने कहा, श्रीनगर में आयोजित कार्यक्रम को देखकर मुझे सुखद आश्चर्य हुआ। इसी प्रकार के कार्यक्रम अगले वर्ष से सभी जिला मुख्यालयों में आयोजित किए जाने चाहिए। खटाना एवं उनके दोस्त कश्मीर के पहले नए वर्ष का जश्न मनाने के लिए 100 किलोमीटर से अधिक यात्रा करके आए हैं। सतीश कुमार तथा उनका परिवार कश्मीर में नया वर्ष मनाने की उम्मीद में दिल्ली से आए थे।

साल के पहले ही दिन ISRO ने रचा इतिहास, 2024 में भारत के अंतरिक्ष अभियान का जबरदस्त आगाज़

BSF ने ड्रोन खतरे को नाकाम किया: 2023 में 100+ ड्रोन को मार गिराया, 37 तस्करों को पकड़ा

केरल: भाजपा में शामिल हुए प्रीस्ट सहित 50 ईसाई परिवार, किया पीएम मोदी का समर्थन

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -