निर्यात को लेकर सरकार को करना पड़ रहा घाटे का सामना

निर्यात को लेकर सरकार को करना पड़ रहा घाटे का सामना

हाल ही में सरकार के द्वारा मैन्युफैक्चरिंग के सेक्टर को बढ़ावा दिया जा रहा है वहीँ दूसरी तरफ यह भी देखने में आ रहा है कि अगस्त महीने के दौरान सरकार को करीब 5 सेक्टर्स में निर्यात को लकर घाटा प्राप्त हुआ है. जी हाँ, आपको बता दे कि इस माह अवधि के दौरान शीर्ष पांच सेक्टरों में निर्यात को लेकर करीब 25 प्रतिशत की गिरावट देखने को मिली है. और इसी गिरावट के साथ यह 13.33 अरब डॉलर पर पहुँच गया है. इन सेक्टर्स में मुख्य रूप से इंजीनियरिंग, पेट्रोलियम, रत्न एवं आभूषण, कपड़ा और फार्मास्यूटिकल्स को बताया जा रहा है. साथ ही मामले में यह खबर सामने आ रही है कि इंटरनेशनल लेवल पर मांग में कमी बनी हुई है जिसके कारण यह गिरावट सामने आई है.

गौरतलब है कि वर्ष 2014-15 के दौरान भारत के कुल वाणिज्यिक निर्यात में इन पांचों सेक्टर्स की 65 फीसदी के करीब हिस्सेदारी रही है, साथ ही बीते अगस्त के दौरान इन पांचों सेक्टर्स का निर्यात 17.79 अरब डॉलर पर देखने को मिला है. जबकि हाल ही में वाणिज्य मंत्रालय ने जो आंकड़े तैयार किये है उनमे यह बात सामने आई है कि यहाँ इंजीनियरिंग, पेट्रोलियम और टेक्सटाइल्स की ग्रोथ में कमी देखने को मिली है जबकि रत्न एवं आभूषण में जहाँ 2.66 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है वहीं फार्मास्यूटिकल्स में 6 फीसदी की बढ़ोतरी सामने आई है. जहाँ यह सामने आया है कि वित्त वर्ष 2014-15 के दौरान पांचो सेक्टर्स का निर्यात 202.15 अरब डॉलर पर आ गया है वहीँ बीते वित्त वर्ष में कुल 310.5 अरब डॉलर का निर्यात देखने को मिला है.