गंगोत्री-यमुनोत्री तीर्थयात्रा शुरू, 1782 श्रद्धालु पहुंचे


गंगोत्री और यमुनोत्री धाम यात्रियों के आने से गुलजार होने लगा है। दोनों धाम गंगा व यमुना के जैकारों से गूंजते रहे। यमुनोत्री धाम में कपाटोद्घाटन के दिन पहुंचे विभिन्न प्रांतों के यात्रियों ने गंगोत्री का रुख किया, जबकि गंगोत्री में मौजूद अनेक यात्री यहां से केदारनाथ की ओर रवाना हुए, जहां 24 अप्रैल से यात्रा का शुभारंभ होगा। 

यमुनोत्री धाम में बुधवार को 932 व गंगोत्री धाम में 850 तीर्थयात्री दर्शनों को पहुंचे। जबकि जिले के विभिन्न जगहों से लोकल टैक्सी वाहनों से अनेक गंगोत्री और यमुनोत्री धाम की ओर रवाना हुए। धामों में यात्रियों के आने से गंगोत्री रूट पर नेताला, गंगनानी, हर्षिल व धराली जैसे पड़ावों पर चहल पहल रही, जबकि यमुनोत्री रूट पर बड़कोट समेत रानाचट्टी, हनुमाचट्टी व जानकीचट्टी में दो साल पहले की तरह यात्रा सीजन का नजारा रहा। 

गंगेत्री हाईवे के कुछ हिस्सों को छोड़कर फिलहाल यात्रा मार्ग सामान्य स्थिति में नजर आ रहे हैं। दोनों धामों पर पेयजल, बिजली व आवासीय व्यवस्थाएं भी दुरुस्त हैं। निर्धन तीर्थयात्रियों के लिए गंगोत्री मंदिर समिति की ओर से अन्नक्षेत्र की व्यवस्था भी की गई है। वहीं दोनों धामों पर प्रशासन की ओर से स्वास्थ्य व सुरक्षा व्यवस्था भी चाक-चौबंद है।