Share:
शादी न होने से परेशान पिता ने ली बेटी की जान
शादी न होने से परेशान पिता ने ली बेटी की जान

गाजियाबाद : गाजियाबाद के वैशाली क्षेत्र में एक अजीब सी वारदात सामने आई है। दरअसल एक पिता अपनी 35 वर्षीय बेटी के विवाह के लिए बहुत प्रयास कर रहा था मगर जब बेटी के लिए कोई रिश्ता नहीं मिला तो वह परेशान हो उठा। उसे निराशा ने घेर लिया। उसने अपनी बेटी को ही अपने हाथों से जहर दे दिया और फिर स्वयं की जहर खा लिया। मगर जब उसे अपनी गलती का अहसास हुआ तो उसने अपने आसपास वालों को फोन कर सूचना दी।

मिली जानकारी के अनुसार केपी नाथ 72 वर्ष अपनी 35 वर्षीय लड़की का विवाह न होने से परेशान थे। ऐसे में उसने अपनी बेटी अनुराधा 35 वर्ष को जहर दे दिया। बेटी को जहर देने के बाद उन्होंने स्वयं भी जहर खा लिया। मगर जब उसे पीड़ा होने लगी तो उसने अपने पड़ोसी को फोन कर सूचा दी। ऐसे में पड़ोसी ने दोनों को अस्पताल पहुंचाया। हालांकि उनकी लड़की अनुराधा की मौत हो गई जबकि बुजुर्ग की हालत गभीर बनी हुई है। दरअसल केपी नाथ अपनी बेटी, बेटे शैलेंद्र और बहू के साथ रहते हैं।

वे सीडीओ आॅफिस से सीनियर क्लर्क के पद से सेवानिवृत्त हैं। मिली जानकारी के अनुसार उनकी पुत्री अनुराधा मानसिकतौर पर बीमार थीं। जिसके कारण उसका विवाह नहीं हो पा रहा था। उनका बेटा अपनी पत्नी और बेटे के साथ चंडीगढ़ गया था। केपी नाथ और अनुराधा घर में अकेले थे। ऐसे में केपी नाथ ने इस तरह का कदम उठाया। पुलिस ने इस मामले में मर्ग कायम कर जांच प्रारंभ कर दी है। केपी नाथ के सामान्य होने पर पुलिस उनसे भी पूछताछ कर सकती है।

रिलेटेड टॉपिक्स
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -