Share:
किसानो ने अधिकारीयो के समक्ष बयां की अपनी पीड़ा
किसानो ने अधिकारीयो के समक्ष बयां की अपनी पीड़ा

इंदौर: 45 हजार से अधिक किसानो ने तकरीबन आठ करोड़ रुपए का प्रीमियम इंदौर प्रीमियर को-आपरेटिव (आईपीसी) बैंक में जमा कराया है, परन्तु इस दौरान किसानो की इसकी रसीदें नही दी गई. जब इंदौर के आसपास की तहसीलो जैसे की खुड़ैल खुर्द और खुड़ैल बुजुर्ग रोजड़ी, बड़ी कलमेर और जम्बूड़ी हप्सी गांव में पहुंचे तो किसानो ने अपनी पीड़ा इन अधिकारियो के दल को बया की इस दौरान इन अधिकारीयो के पास कोई जवाब नही था, अधिकारियो ने जब इसके लिए बैंक व सहकारी सोसायटी से इस संबंध में पूछा तो उन्होंने कहा की फसल बीमा की प्रीमियम राशि तो ली जाती है, लेकिन रसीद नहीं देने की परंपरा रही है.

उन्होंने कहा की अगर हम रसीद देंगे तो किसान हमसे बीमे की राशि भी मांगेगे. इस दौरान प्रमुख सचिव अरुण तिवारी और अन्य अफसरों के सामने किसानों ने अपनी पीड़ा व्यक्त करते हुए कहा की फसल बर्बादी के बाद हमे इसके नुकसान का बीमा मिलना चाहिए.

किसानो ने कहा की अभी तक पिछले सालो की नुकसानी का बीमा नही मिला है. इस दल में  जनपद पंचायत सीईओ पुरुषोत्तम पाटीदार, उपायुक्त सहकारिता राजेश कुमार क्षत्री व और भी कई अधिकारी मौजूद थे. 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -