विशेषज्ञों का मानना, नोटबंदी से नहीं थमेगा कालाधन

नई दिल्ली :  भले ही केन्द्र की मोदी सरकार ने नोटबंदी कर कालाधन कुबेरों पर नकेल कसने का काम किया हो लेकिन यदि विशेषज्ञों का माने तो उनका कहना है कि नोटबंदी से कालाधन के कदम थमेंगे नहीं। विशेषज्ञों का कहना है कि जिन लोगों ने बेनामी संपत्ति एकत्र कर ब्लैकमनी जमा की है वह विदेशी बैंकों में विदेशी मुद्रा के रूप में जमा है, इसलिये नोटबंदी का उतना असर कालाधन कुबेरों पर नहीं होगा, जितना सरकार सोच रही है।

यहां बेईमानों की बल्ले-बल्ले

भारत से कालाधन को खत्म करने की कार्रवाई शुरू हो गई है, लेकिन सरकार को विशेषज्ञों की बात को भी ध्यान में रखना होगा। इधर जानकारी मिली है कि विश्व के कई ऐसे देश है, जहां विदेशी मुद्रा के रूप में कालाधन जमा है। इन देशों में न तो टैक्स लगता है या फिर लगता भी है तो उसका प्रतिशत इतना कम है कि कालाधन कुबेरों के लिये चिंता का विषय नहीं रहता। इसलिये बेनामी संपत्ति धारकों की इन देशों में बल्ले-बल्ले रहती है।

जानकारी के अनुसार स्विट्जरलैंड, कैमेन आइलैंड, कुवैत, कतर, बहरीन, बरमूडा, ओमान समेत कुछ ऐसे देश है, जहां किसी व्यक्ति की आय पर टैक्स नहीं लगने का कानून है।

भगवान की शरण में कालाधन, लबालब भरने लगी दान पेटियां

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -