Share:
रोजाना 5 लाख बैरल तेल निकालने का प्रोजेक्ट शुरू
रोजाना 5 लाख बैरल तेल निकालने का प्रोजेक्ट शुरू

राजस्थान के बाड़मेर में रविवार को केंद्रीय पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने मंगला-भाग्यम-ऐश्वर्या (एमबीए) क्षेत्रों के लिए उन्नत तेल प्राप्ति (एनहांस्ड आयल रिकवरी) कार्यक्रम का उद्घाटन किया. इस कार्यक्रम से राजस्थान में 5 लाख बैरल तेल प्रतिदिन (बीओपीडी) के उत्पादन लक्ष्य को हासिल करने में सहायता मिलेगी. वर्तमान में राजस्थान में भारत के सबसे बड़े तटवर्ती तेल ब्लॉक का संचालन कर रही वेदान्ता केयर्न ऑयल एंड गैस ने बाड़मेर के तेल क्षेत्रों से कच्चे तेल के उत्पादन को बढ़ाने के लिए 37 हजार करोड़ रुपए का निवेश करने का संकेत दिया है.

कंपनी के अनुसार 12 हजार करोड़ रुपए की पूंजी निवेश योजना की सहायता से उत्पादन 3 लाख तक बढ़ेगा. इस योजना को कार्यान्वित करना शुरू किया जा चुका है. इस योजना को मिलाकर अग्रिम वर्षों में कुल 37 हजार करोड़ रुपए से अधिक की पूर्ण निवेश योजना के आधार पर उत्पादन 5 लाख बीओपीडी तक बढ़ाने की संभावना है. रविवार को बाड़मेर में सेंट्रल पॉलीमर फैसिलिटी में ईओआर प्रोजेक्ट के उद्घाटन के बाद, केंद्रीय मंत्री ने युवा इंजीनियरों और महिला पेट्रोलियम इंजीनियरों से बातचीत भी की.

मंगला प्रसंस्करण टर्मिनल में केयर्न ऑयल एंड गैस के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुधीर माथुर ने अतिथियों का स्वागत किया. उन्होंने सभी को संबोधित करते हुए कहा कि कंपनी ने उत्पादन को दोगुना करने का प्रस्ताव दिया है. एमबीए-ईओआर परियोजना, अधिक उत्पादन के लक्ष्य को पाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी.

गणतंत्र दिवस पर बड़े आतंकी हमले का साया !

इंडिगो फ्लाइट की टिकिट ली इंदौर की, पहुँच गया नागपूर

राहुल की अमेठी यात्रा आज से

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -