हर 41 वर्षो में यहां आते हैं भगवान हनुमान

Apr 14 2015 07:08 AM
हर 41 वर्षो में यहां आते हैं भगवान हनुमान
style="text-align: justify;">नई दिल्ली : कलयुग में भी भगवान का अस्तित्व है। इस बात को कोई नहीं ठुकरा सकता है। जी हाँ, ऐसा देखने को भी मिला है। श्रीलंका के घने जगंलों में भगवान हनुमान का अस्तित्व आज भी देखने को मिलता है। सैकड़ों साल बाद आज के आधुनिक युग में भी भगवान हनुमान जी के जिंदा होने की खबर आ रही है। बताया जा रहा है कि श्रीलंका के जंगलों में हनुमान जी की मौजूदगी के संकेत मिले हैं।

जी हां सूत्रों के मुताबिक श्रीलंका के जंगलों में कुछ ऐसे कबीलाई लोगों का पता चला है जिनसे मिलने हनुमान जी आते हैं। हर 41 साल बाद हनुमान जी इन लोगों से मिलने आते हैं। खबरों के मुताबिक इन जनजातियों पर अध्ययन करने वाले आध्यात्मि क संगठन "सेतु" के हवाले से यह सनसनीखेज खुलासा किया है। इस अखबार के मुताबिक हनुमान जी इस साल हाल ही में इस जनजाति के लोगों से मिलने आए थे। 

इसके बाद वे 41 साल बाद यानी 2055 में आएंगे। ग्रंथो के मुताबिक हनुमान जी को वरदान मिला था कि उनकी कभी मृत्यु नहीं होगी यानी वे चिरंजीवी रहेंगे। खबरों के मुताबिक हनुमान जी जब इस कबीले के साथ रहते हैं, कबीले का मुख्या हर बातचीत और घटना को एक "लॉग बुक" में दर्ज करता है। सेतु इस लॉग बुक का अध्ययन कर रहा है और इसका आधुनिक भाषाओं में अनुवाद करा रहा है। सेतु के मुताबिक 27 मई 2014 हनुमान जी का इस जंगल में बिताया आखिरी दिन था।