Share:
ग्रीस ने नहीं चुकाए 12000 करोड़ तो घोषित होगा डिफाॅल्टर देश
ग्रीस ने नहीं चुकाए 12000 करोड़ तो घोषित होगा डिफाॅल्टर देश

एथेंस। इन दिनों वैश्विक स्तर पर आर्थिक संकट का दौर चल रहा है। पहले जहां वर्ष 2008 में अमेरिका के बैंक आर्थिक रूप से हाशिये पर आ गए तो दूसरी ओर नाईजीरिया आर्थिक रूप से बदहाल हो गया। यही नहीं अब ताज़ा मामले में ग्रीस विश्व मौद्रिक बैंक की नीतियों के तले दबकर कर्ज से परेशान हो चुका है। अब उसकी आर्थिक हालत इतनी बदतर हो गई है कि उसके पास 12000 करोड़ रूपए तक नहीं है। जो कि वैश्विक स्तर पर उसकी माली हालत को संभाल सके। ऐसे में उसे आईएमएफ डिफाॅल्टर घोषित करने की तैयारी कर रहा है। मिली जानकारी के अनुसार ग्रीस ऐसा दूसरा देश है जो आईएमएफ का कर्ज नहीं वहन कर पाया। यही नहीं 2001 में जिम्बाॅब्वे द्वारा भी ऐसा ही किया गया।

विश्व बाजार में अब आने वाली उम्मीदें जनमत संग्रह से ही लगी हैं। यह जनमत संग्रह 5 जुलाई को होगा। यही नहीं आईएमएफ द्वारा विभिन्न शर्तों को मानने से इंकार कर दिया गया है। ग्रीस के हालात अनियंत्रित हो चुके हैं। हालात ये हैं कि लोग घटती नौकरियों, कम वेतनमान और अधिक खर्चे से तो परेशान हैं ही यही नहीं बैंकों में जमा उनके धन का आंकलन भी कम हो गया है और तो और अब एटीएम ट्रांजिक्शन सीमित कर दिया गया हैं ऐसे में नागरिक परेशान हैं कि आखिर करे तो करे क्या।

हालांकि इन हालातों से मदद के लिए लंदन आगे आया हैं दरअसल लंदन में इस देश के लिए फंडिंग वेबसाईट इनडीगोगो बनाई गई है। इस वेबसाईट के माध्यम से दुनियाभर से करीब 11600 करोड़ रूपए जुटाने के प्रयास किए जा रहे हैं। ग्रीस के हालात बदहाल होने के बाद अब चीन को भी नुकसान होने की बात कही जा रही है। दरअसल यहां आर्थिक हालत खराब होने से प्राॅपर्टी सस्ती हो गई और चीन द्वारा इस क्षेत्र में निवेश किया गया। यहां चीन का निवेश करीब 3.35 लाख करोड़ रूपए माना जा रहा है।

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -