ड्रोन का बिजनेस दुगुना होने की तैयारी में

लंदन : ड्रोन का इस्तेमाल का तरीका पहले और अब में बहुत हद तक बदल गया है. जैसे कि आज ड्रोन का उपयोग सेना में भी होने लगा है. साथ ही आपको यह भी बता दे कि सेना में भी इस टेक्नोलॉजी को काफी कारगर माना जाता है. इसी को देखते हुए यह भी कहा जा रहा है कि सेना में काम में आने वाले ड्रोन्स का बाजार भी वर्ष 2024 तक दुगुना हो जायेगा और यह 10 अरब डॉलर से भी आगे निकल जायेगा. इस मामले में इंटेलिजेंस रिव्यू के द्वारा जारी की गई एक रिपोर्ट में यह बात सामने आई है कि मानवरहित टोही विमानों के लिए वैश्विक रक्षा और सुरक्षा बाजार इस अवधि के दौरान 5.5 फीसदी की दर से बढ़ने वाला है जोकि फ़िलहाल 6.4 अरब डॉलर है.

रिपोर्ट से इस बात का भी पता चला है कि इस क्षेत्र में बहुत ही तेजी से वृद्धि देखने को मिल रही है. रिपोर्ट से ही यह बात भी सामने आई है कि पिछले वर्ष इजराइल को मानवरहित टोही विमानों के सबसे बड़े निर्यातक के रूप में देखा गया है जबकि फ़िलहाल अमेरिका जनरल प्रिडेटर सीरीज और नार्थरॉप ग्रुमैन ग्लोबल हॉक की बिक्री के साथ ही इजराइल से आगे निकलने की तैयारी कर रहे है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -