Share:
खाने के बाद भूलकर भी ना करें ये 5 गलतियां, वरना हो सकती है दिक्कतें
खाने के बाद भूलकर भी ना करें ये 5 गलतियां, वरना हो सकती है दिक्कतें

ऊर्जावान और स्वस्थ शरीर बनाए रखने के लिए समय पर भोजन करना महत्वपूर्ण है। हालाँकि, भोजन के बाद की कुछ आदतें आपके पाचन तंत्र पर हानिकारक प्रभाव डाल सकती हैं। पोषण विशेषज्ञ मानसी कुछ सामान्य गलतियों पर प्रकाश डालती हैं जो आपके पाचन पर नकारात्मक प्रभाव डाल सकती हैं, जिससे सूजन, एसिडिटी और चक्कर आना जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इन गलतियों को समझना और उनसे बचना पाचन स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में योगदान दे सकता है।

मीठी चीजों से परहेज: बहुत से लोग भोजन के बाद कुछ मीठा खाने की इच्छा रखते हैं। खाने के तुरंत बाद मिठाई का सेवन करने से रक्त शर्करा के स्तर में तेजी से वृद्धि हो सकती है। पारंपरिक मिठाइयाँ खाने के बजाय, डार्क चॉकलेट का एक टुकड़ा चुनने पर विचार करें, जो रक्त शर्करा पर कम प्रभाव के साथ आपके मीठे दाँत को संतुष्ट कर सकता है।

चाय और कॉफी का सेवन सीमित करना: भोजन के बाद चाय या कॉफी का सेवन करना एक आम आदत है। हालाँकि, ये पेय पदार्थ टैनिन की उपस्थिति के कारण आवश्यक पोषक तत्वों के अवशोषण में बाधा डाल सकते हैं। पोषक तत्वों के अवशोषण पर प्रतिकूल प्रभाव को कम करने के लिए नियमित चाय या कॉफी के स्थान पर हर्बल विकल्पों पर विचार करें।

फलों के सेवन में देरी करना: हालाँकि फल एक स्वस्थ विकल्प हैं, भोजन के तुरंत बाद इन्हें खाने से पाचन प्रक्रिया बाधित हो सकती है। भोजन के बाद नाश्ते के रूप में फलों का आनंद लेने से पहले कुछ समय गुजारें। इस तरह, आप पाचन से समझौता किए बिना फलों के पोषण मूल्य से लाभ उठा सकते हैं।

मध्यम पानी का सेवन: हाइड्रेटेड रहना समग्र स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है, लेकिन भोजन के तुरंत बाद अत्यधिक पानी का सेवन पाचन एंजाइमों को पतला कर सकता है, जिससे संभावित रूप से पाचन प्रक्रिया कमजोर हो सकती है। खाने के तुरंत बाद बड़ी मात्रा में पानी पीने के बजाय, पूरे दिन लगातार जलयोजन बनाए रखने का प्रयास करें।

तुरंत सोने से बचना: भोजन के बाद झपकी लेने की इच्छा आम है, लेकिन बहुत जल्दी लेटने से एसिड रिफ्लक्स और अपच जैसी समस्याएं हो सकती हैं। आरामदायक नींद लेने से पहले पाचन में सहायता के लिए खाने के बाद थोड़ी सैर या कुछ हल्की शारीरिक गतिविधि को प्राथमिकता दें।

इन आदतों के प्रति सचेत रहकर, आप अपने पाचन तंत्र को सहारा दे सकते हैं और समग्र स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकते हैं। अपने शरीर की बात सुनना और उसकी प्राकृतिक प्रक्रियाओं के अनुरूप अभ्यास अपनाना आवश्यक है। भोजन के बाद की दिनचर्या में इन समायोजनों को शामिल करने से पाचन में सुधार और बेहतर दीर्घकालिक स्वास्थ्य में योगदान मिल सकता है।

'सिगरेट की कीमतें और बढ़ा दो..', आम बजट से पहले केंद्र सरकार से डॉक्टरों और अर्थशास्त्रियों की मांग

जातियों के बाद अब 'शराबबंदी' पर अध्ययन करेगी बिहार सरकार ! नए सर्वे की तैयारी में जुटे सीएम नितीश कुमार

क्या आप जानते हैं अपना चेहरा साफ करने का सही तरीका? अगर नहीं तो जरूर पढ़ें ये खबर

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -