Share:
क्या आपको भी रात को बहुत देर तक नहीं आती है नींद? तो रोजाना अपनाएं ये उपाय, मिलेगी राहत
क्या आपको भी रात को बहुत देर तक नहीं आती है नींद? तो रोजाना अपनाएं ये उपाय, मिलेगी राहत

आवश्यक पोषक तत्वों की प्रचुर आपूर्ति के कारण दूध को अक्सर संपूर्ण भोजन माना जाता है। सोने से ठीक पहले गर्म दूध का सेवन कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है, और इसमें थोड़ी मात्रा में घी मिलाने से ये फायदे काफी बढ़ सकते हैं। आयुर्वेद घी को एक औषधीय पदार्थ के रूप में मान्यता देता है, इसके चिकित्सीय गुणों पर जोर देता है।

घी के साथ दूध पीने के फायदे:
विटामिन का समृद्ध स्रोत:
घी विटामिन ए, डी, ई और के का एक उत्कृष्ट स्रोत है। लाभकारी वसा की उपस्थिति के कारण देसी घी का सेवन हृदय को स्वस्थ बनाए रखने में योगदान देता है।

पोषक तत्व अवशोषण:
घी दूध में मौजूद वसा में घुलनशील विटामिन (ए, डी, ई और के) के अवशोषण में सहायता करता है, जिससे यह सुनिश्चित होता है कि शरीर को ये आवश्यक पोषक तत्व आसानी से प्राप्त हों।

स्वस्थ वसा सामग्री:
शरीर के समुचित कार्य के लिए पर्याप्त वसा का सेवन महत्वपूर्ण है। घी स्वस्थ वसा के प्रमुख स्रोत के रूप में कार्य करता है, जो विभिन्न शारीरिक कार्यों का समर्थन करता है।

हड्डी का स्वास्थ्य:
घी और दूध का संयोजन शरीर को पर्याप्त कैल्शियम और विटामिन डी प्रदान करता है। यह हड्डियों को मजबूत बनाए रखने और जोड़ों को चिकनाई देने, जोड़ों से संबंधित समस्याओं को रोकने के लिए आवश्यक है।

बेहतर पाचन:
घी और दूध के सेवन से पाचन शक्ति बढ़ती है। घी पेट के एसिड को संतुलित करने में मदद करता है और स्वस्थ पाचन तंत्र को बढ़ावा देता है।

गहरी नींद 
सोने से पहले गर्म दूध में घी डालकर पीने से अच्छी नींद आती है। नींद में बाधा का अनुभव करने वाले लोगों के लिए, जब सोने से 15 मिनट पहले इस संयोजन का सेवन किया जाता है, तो नींद की गुणवत्ता में काफी सुधार हो सकता है।

खुराक सिफ़ारिशें:
सर्वोत्तम लाभ के लिए एक गिलास दूध में एक बड़ा चम्मच घी मिलाने की सलाह दी जाती है।

विशिष्ट समूहों के लिए सावधानी:
हृदय और लीवर से संबंधित समस्याओं वाले व्यक्तियों को घी के साथ दूध का सेवन करने से बचना चाहिए। इसके अतिरिक्त, वजन नियंत्रित करने का लक्ष्य रखने वालों को साबुत क्रीम दूध और घी से बचना चाहिए।

दूध के साथ घी मिलाने से इस पारंपरिक पेय की पोषण संबंधी प्रोफ़ाइल बढ़ जाती है, जिससे असंख्य स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं। हालाँकि, अपने आहार में घी को शामिल करने के लिए एक व्यक्तिगत और सुरक्षित दृष्टिकोण सुनिश्चित करने के लिए, विशेष रूप से विशिष्ट स्वास्थ्य चिंताओं वाले लोगों के लिए, स्वास्थ्य देखभाल पेशेवर से परामर्श करना महत्वपूर्ण है।

क्या लाडले को हर मुद्दे पर आता है गुस्सा करता है हर बात का विरोध तो इस तरह करें हैंडल

आंखों की थकान कैसे दूर करें? 5 एक्सरसाइज की मदद लें, बरकरार रहेगी रोशनी

हार्ट अटैक के बाद ऐसे रखें अपने दिल का ख्याल, एक्सपर्ट्स से जानें क्या खाएं और क्या नहीं

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -