Share:
रविवार के दिन न करे प्याज का सेवन
रविवार के दिन न करे प्याज का सेवन

रविवार के इष्टदेव भगवान सूर्य को उनकी गर्म और सूखी प्रकृति के कारण वैदिक ज्योतिष में कुछ हानिकारक रूप में वर्णित किया गया है.  वे आत्मा, इच्छा शक्ति, प्रसिद्धि, आँखें, सामान्य जीवनशक्ति, साहस, शासन, पिता और परोपकार के गुणों का वर्णन करते हैं. ऐसे लोग जिनकी जन्म पत्रिका पर भगवान सूर्य का राज होता है तथा वे लोग जो इसके हानिकारक कारणों से पीड़ित हैं उन्हें यदि

भगवान सूर्य के प्रकोप से बचना है तो उन्हें रविवार के दिन ये वस्तुएं नहीं खानी चाहिए. 

1-मसूर में बहुत अधिक मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है जो मांस में पाए जाने वाले प्रोटीन की तुलना में भी बहुत अधिक होता है. अत: इसे "देव भोग" अर्थात भगवान के प्रसाद के रूप में नहीं खाया जा सकता. 

2-रविवार के दिन लाल साग खाना अशुभ माना गया है क्योंकि इस तरह के मिश्रित अल्पकालिक बारहमासी पौधे को वैष्णव धर्म में मृत्यु का प्रतीक माना गया है. 

3-हालाँकि लहसुन ब्लडप्रेशर को नियंत्रित रखने के लिए अच्छा माना गया है परन्तु इसे रविवार के दिन नहीं खाना चाहिए क्योंकि इसे मृत व्यक्ति के पसीने के प्रतीक के रूप में देखा जाता है. 

4-यद्यपि मछली प्रोटीन का अच्छा स्त्रोत मानी जाती है परन्तु रविवार के दिन इसे न खाने की सलाह दी जाती है क्योंकि यह मांस है. 

5-प्याज एक प्रमुख सब्जी है तथा लगभग प्रत्येक घर में पाई जाती है. रविवार के दिन प्याज का सेवन करना अशुभ माना जाता है तथा इसे भगवान सूर्य को भी नहीं चढ़ाया जा सकता. 

आर्थिक तंगी से बचने के लिए न करे मंगलवार...

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -