महाशिवरात्रि पर भूलकर भी ना करें ये गलतियां, वरना भुगतना पड़ेगा भारी अंजाम
महाशिवरात्रि पर भूलकर भी ना करें ये गलतियां, वरना भुगतना पड़ेगा भारी अंजाम
Share:

महाशिवरात्रि का त्यौहार कुछ ही दिनों में आने वाला है। इस वर्ष महाशिवरात्रि 18 फरवरी 2023 को बड़ी ही धूमधाम से मनाई जाने वाली है। इस दिन शिव भक्त पूरे भक्तिभाव से पूजा अर्चना करते हैं तथा उपवास ग्रहण करते है। वही महाशिवरात्रि के दिन दुर्लभ संयोग बन रहा है। इस दिन शनि देव कुंभ राशि में गोचर कर रहे हैं। 30 वर्ष पश्चात् कुंभ राशि में आ रहे शनिदेव, महाशिवरात्रि पर महादेव के साथ ही पूज्य होंगे। 18 फरवरी को महाशिवरात्रि मनायी जाएगी। इस दिन शनि प्रदोष व्रत का संयोग बन रहा है। महाशिवरात्रि के दिन की गई पूजा खास अहमियत रखती है। महादेव इस पूजा से खुश होकर मनोकामना पूरी करते हैं। मगर इस दिन कुछ काम वर्जित होते हैं। जो ध्यान में रखें।

महाशिवरात्रि पर ये गलतियां पड़ सकती है भारी:-
* महाशिवरात्रि के दिन चढ़ाए प्रसाद को कभी भी स्वयं ग्रहण ना करें, ऐसा करने पर गरीबी आती है।
* शिवलिंग पर टूटे हुए अक्षत नहीं चढ़ाना चाहिए।
* शिवलिंग पर टूटे बेलपत्र नहीं चढ़ाने चाहिए। बेलपत्र पर चंदन से राम लिखें तथा फिर चढ़ाएं।
* शिवलिंग पर रोली को ना चढ़ाएं, रोली की जगह चंदन का इस्तेमाल किया जाना चाहिए।
* महादेव की पूजा में शिवलिंग पर केतकी और चंपा फूल नहीं चढ़ाना चाहिए( मान्यता है कि इन दोनों ही फूलों को महादेव ने शापित किया था)
* शिवलिंग पर प्रातः अभिषेक जल से, दिन में दही और दूध और शाम को घी और रात को  शहद से करना चाहिए, ऐसा करने पर यश और वैभव की प्राप्ति होती है।
* शिवलिंग पर बेर चढाने चाहिए
* महाशिवरात्रि के दिन काले कपड़े ना पहनें, सफेद, लाल या फिर गुलाबी रंग के कपड़े आप पहन सकते हैं।

भूकंप से बचने के लिए बरतें ये सावधानियां

'मौलवियों-इमामों को वेतन, तो हमें क्यों नहीं..', क्या पुजारियों-ग्रंथियों की यह मांग गलत ?

हिंडनबर्ग के 'अटैक' के बाद अडानी का जबरदस्त कमबैक ! शेयरों में आई तूफानी तेजी

रिलेटेड टॉपिक्स