Share:
राम-सीता विवाह से लेकर काल भैरव जयंती तक, दिसंबर में पड़ रहे है व्रत त्यौहार
राम-सीता विवाह से लेकर काल भैरव जयंती तक, दिसंबर में पड़ रहे है व्रत त्यौहार

वर्ष का अंतिम महीना दिसंबर शुरू होने वाला है. ये अंग्रेजी कैलेंडर का 12वां महीना है. 1 दिसंबर 2023 को मार्गशीर्ष माह के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि है. दिसंबर में ईसाइ धर्म का सबसे बड़ा त्योहार क्रिसमस मनाया जाता है. हिंदू पंचांग के मुताबिक, दिसंबर में मार्गशीर्ष का महीना रहेगा, जो प्रभु श्री कृष्ण को समर्पित है. जानिए दिसंबर माह के व्रत-त्योहार की सूची... 

दिसंबर 2023 व्रत-त्योहार की सूची:-
05 दिसंबर 2023 - काल भैरव जयंती, कालाष्टमी
कालभैरव भगवान शिव के रौद्र रूप हैं. मार्गशीर्ष माह में काल भैरव का जन्म हुआ था, इन्हें दंडनायक बताया गया है. इनकी पूजा से भय, ग्रह दोष दूर होते हैं.

08 दिसंबर 2023 - उत्पन्ना एकादशी:-
मार्गशीर्ष मास के कृष्णपक्ष की एकादशी के दिन प्रभु श्री विष्णु के अंश से एकादशी का प्रादुर्भाव हुआ था, इस देवी ने मुर जैसे भयंकर राक्षस से प्रभु श्री विष्णु के प्राण बचाए जिससे प्रसन्न होकर विष्णु ने इन्हें एकादशी नाम दिया.

10 दिसंबर 2023 - प्रदोष व्रत (कृष्ण)
प्रत्येक महीने की त्रयोदशी के दिन प्रदोष व्रत रखा जाता है. इस दिन महादेव को प्रसन्न करने के लिए सूर्यास्त के बाद शिवलिंग का अभिषेक किया जाता है. मान्यता है इससे समस्त मनोकामना पूरी होती है.

11 दिसंबर 2023 - मासिक शिवरात्रि

12 दिसंबर 2023 - मार्गशीर्ष अमावस्या
अमावस्या पर्व के समान मानी जाती है. मार्गशीर्ष माह में अमावस्या पर गंगा स्नान तथा दान करने से पितृ दोष दूर होता है. शनि की महादशा से राहत प्राप्त होती है.

16 दिसंबर 2023 - धनु संक्रांति, विनायक चतुर्थी, खरमास शुरू
धनु संक्रांति के दिन सूर्य देव धनु राशि में प्रवेश करते हैं. धनु राशि में सूर्य के आते ही खरमास आरम्भ हो जाते हैं तथा मांगलिक कार्य पर रोक लग जाती है.

17 दिसंबर 2023 - विवाह पंचमी
विवाह पंचमी के दिन श्रीराम और माता सीता का विवाह हुआ था. इस दिन विवाह के अतिरिक्त समस्त शुभ कार्य करना शुभ माना जाता है.

18 दिसंबर 2023 - चंपा षष्ठी

22 दिसंबर 2023 - मोक्षदा एकादशी, गीता जयंती
मोक्षदा एकादशी अपने नाम स्वरूप मोक्ष प्रदान करने वाला व्रत माना जाता है. इस दिन मोक्ष प्राप्ति के लिए प्रभु श्री विष्णु की विशेष पूजा, रात्रि जागरण करना चाहिए.

23 दिसंबर 2023 - बैकुंठ एकादशी
24 दिसंबर 2023 - प्रदोष व्रत (शुक्ल)
26 दिसंबर 2023 - मार्गशीर्ष पूर्णिमा व्रत, दत्तात्रेय जयंती, अन्नपूर्णा जयंती, त्रिपुर भैरवी जयंती
मार्गशीर्ष माह के अंतिम दिन यानी पूर्णिमा व्रत में मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए बहुत शुभ माना जाता है. पूर्णिमा के दिन स्नान-दान करने से हर दुख दूर हो जाते हैं.

27 दिसंबर 2023 - पौष माह आरंभ
28 दिसंबर 2023 - गुरु पुष्य योग
30 दिसंबर 2023 - अखुरथ संकष्टी चतुर्थी

इन राशि के लोगों के लिए बेहद शुभ रहेगा नया साल 2024, शुरू होगा अच्छा समय

16 दिसंबर से पहले निपटा लें सभी शुभ कार्य, वरना 1 महीना करना होगा इंतजार

आज बैकुंठ चतुर्दशी पर करें ये एक काम, पूरी होगी हर मनोकामना

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -