Share:
अय्याशी के लिए तीन दोस्तों ने रची दोस्त के अपहरण की साजिश
अय्याशी के लिए तीन दोस्तों ने रची दोस्त के अपहरण की साजिश

दरभंगा : अय्याशी के लिए  बिहार के तीन दोस्तों ने व्यापारी के पुत्र अपने ही एक परिचित दोस्त के अपहरण की साजिश रची.वे अपने मकसद को पूरा करने के लिए कार से निकल भी पड़े, लेकिन इसके पहले ही पुलिस को इनके खतरनाक इरादों की भनक लग गई और उसने जाल बिछाकर तीनो आरोपियों को पकड़ लिया.अपराधियों के पास से एक कट्टा व छह गोलियों के अलावा कई कंपनियों के सिम बरामद किये गये हैं. व्यापारी पुत्र का नाम बताने से फ़िलहाल पुलिस बच रही है.

इस घटना के बारे में एएसपी दिलनवाज अहमद ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि कुछ अपराधी अपहरण करने के मकसद से बेनीपुर की ओर से शहर में आ रहे हैं. इस पर पुलिस ने दोनार चौक पर जाल बिछाया और मारुति ऑल्टो (बीआर 32 डी- 4042) कार से तीन आरोपियों को पकड़ा.पकड़े गये आरोपियों में मधुबनी जिले के बेनीपट्टी निवासी विश्वमोहन पाठक का पुत्र अविनाश कुमार पाठक, वहीं के स्व. जीवचंद्र पाठक का पुत्र दीपक पाठक व सीतामढ़ी जिले के रीगा निवासी विकास कुमार का पुत्र आशुतोष कुमार उर्फ सत्यम कुमार मिश्रा शामिल हैं.

एएसपी के अनुसार जिस छात्र का अपहरण करना था, वह दरभंगा के किसी लॉज में रहकर पढाई करता है.आरोपियों ने पुलिस को बताया कि लक्षित छात्र मधुबनी का रहनेवाला है व उसके पिता व्यापारी हैं.छात्र को अपराधी अपना दोस्त बता रहे हैं. पुलिस छात्र की तलाश करने में जुटी है. छात्र व उसके पिता की पहचान का खुलासा करने से पुलिस फिलहाल मना कर रही है.

किसी और के साथ अय्याशी कर रहा था पति, पत्नी ने विरोध किया तो साली और उसके साथ किया ऐसा

अपराधी को पकड़ने में नाकाम पुलिस, बेकुसूर भाई को रखा 10 साल तक जेल में

 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -