बेकाबू हुआ बरघाट, कलेक्टर की गाड़ी पर हमला, लाठीचार्ज के बाद लगा कर्फ्यू

Oct 05 2015 10:45 PM
बेकाबू हुआ बरघाट, कलेक्टर की गाड़ी पर हमला, लाठीचार्ज के बाद लगा कर्फ्यू

सिवनी। जिला मुख्यालय से करीब 22 किलोमीटर दूर सिवनी-बालाघाट मार्ग पर बसे बरघाट नगर में 2 दिन पहले हुई दुर्घटना के दौरान हुई मारपीट में घायल बीजेपी के ग्रामीण मंडल महामंत्री 45 वर्षीय कपूरचंद ठाकरे की रविवार को उपचार के दौरान नागपुर में मौत हो गई। जिसके बाद 5 अक्टूबर के सुबह 9 बजते ही आसपास के गांव के सैकड़ों ग्रामीण बरघाट में एकत्रित होकर सड़क में उतर आए। आक्रोशित लोगो ने बरघाट नगर बंद करवा दिया। कुछ ही देर में बदले माहोल को काबू करने में प्रशासन ने धारा 144 लगा दी। 

दोपहर करीब 3.30 बजते ही कलेक्टर भरत यादव ने स्थिति की गंभीरता को देखते हुए हुए बरघाट इलाके में अनिश्चितकालीन कर्फ्यू घोषित कर दिया। इस दौरान गुस्साए ग्रामीणो ने कलेक्टर, एसडीएम और नगर पंचायत के वाहनों पर पत्थर बरसाये। गुस्साई भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज और बल प्रयोग करना पड़ा। क्या है मामला? बरघाट थाना प्रभारी गनपत सिंह उइके ने मामले के बारे में बताया कि 3 अक्टूबर की रात बीजेपी मंडल महामंत्री व पूर्व सरपंच अपनी कार से गृहग्राम लोहारा की तरफ जा रहे थे। इसी बीच एक बाइक सवार की हल्की टक्कर कार से हो गई।

सड़क में गिरे बाइक सवार ने कार को रोकने के लिए आवाज लगाई, लेकिन कार नहीं रुकी। आवाज सुनकर यहां मौजूद बाइक सवार 22 वर्षीय नासिर पिता जाहिर खान और रजा पिता रियाज खान (28) बरघाट निवासी ने कार का पीछा कर उसे रोका। युवकों ने कार चला रहे बीजेपी ग्रामीण मंडल महामंत्री कपूरचंद को बाहर निकालकर उसके साथ मारपीट कर दी और वहां से चले गए। घायल रूप से घायल हुए मंडल महामंत्री को सामुदायिक अस्पताल बरघाट लाया गया, यहां उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए डॉक्टरों ने मरीज को नागपुर रेफर कर दिया। नागपुर के औरेंज सिटी निजी अस्पताल में 4 अक्टूबर की रात इलाज के दौरान भाजपा मंडल महामंत्री की मौत हो गई। 

बरघाट थाना प्रभारी के मुताबिक भाजपा मंडल महामंत्री के साथ मारपीट करने के आरोपियों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। 5 अक्टूबर आक्रोशित एक पक्ष की भीड़ ने बरघाट नगर को बंद करते हुए मारपीट के आरोपी युवकों के घरों में हमला कर दिया और तोड़फोड़ कर दी। इस दौरान भीड़ ने आरोपियों के घरो के आसपास खड़े दो दर्जन बाइकों में तोड़फोड़ करते हुए उन्हें आग के हलावे कर दिया। बरघाट में बढ़ते तनाव को देखते हुए प्रशासन ने 11 बजे से धारा 144 लगा दी।