पीएम मोदी के 'लेने के देने पड़ जाएंगे' वाले बयान पर कांग्रेस ने राष्ट्रपति को लिखा शिकायती पत्र

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पीएम मोदी के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी हैं. पीएम मोदी पर अब पूर्व पीएम सहित कई कांग्रेस नेताओं ने मोर्चा खोला हैं. हाल ही में पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह और कई कांग्रेस नेताओं के द्वारा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को चिट्ठी लिखी गई हैं. एक शिकायत पत्र में सभी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भाषा पर आपत्ति जताई है. इससे पहले कर्नाटक में पत्रकारों से बातचीत करते हुए मनमोहन सिंह ने मोदी सरकार के नोटबंदी और जीएसटी जैसे मुद्दों को भी असफल करार दिया था.

गौरतलब है कि हल ही में कर्नाटक चुनाव में प्रचार-प्रसार के दौरान पीएम मोदी ने अपनी भाषण में कहा था कि ऐसी पार्टी जिसके प्रमुख जमानत पर हैं, क्या वह हमसे सवाल पूछ रही है.' उन्होंने कहा कि येदियुरप्पा ने अदालतों का सामना किया है. पीएम ने कहा, 'कांग्रेस के नेता कान खोलकर सुन लीजिए, अगर सीमाओं को पार करोगे तो ये मोदी है लेने के देने पड़ जाएंगे.' इस बयान पर चिट्ठी में कांग्रेस ने घोर आपत्ति जताई है. शिकायत पत्र में यह भी लिखा गया है कि पीएम मोदी कांग्रेस को धमकाने का काम कर रहे हैं. 

बता दे कि यह शिकायत पत्र आज कांग्रेस पार्टी द्वारा जारी किया गया हैं. जहां कांग्रेस ने पीएम मोदी द्वारा हुबली में दिए गए भाषण पर आपत्ति जताई हैं. इस शिकायत पत्र में आप पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह समेत कांग्रेस के अन्य बड़े नेताओं के हस्ताक्षर देख सकते हैं. गौरतलब है कि कर्नाटक में गत 12 मई को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान हुआ था. और कल चुनाव परिणाम की घोषणा की जाएगी.

ओड़िसा में दलबदल की राजनीति,भाजपा में शामिल हुए बीजद और कांग्रेस के कार्यकर्त्ता

इंडोनेशिया आत्मघाती हमलों में 11 की मौत हुई

नवाज़ के बचाव में उतरी पार्टी, भारतीय मीडिया पर मढ़े आरोप

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -