Share:
सूर्य की उपासना का पर्व छठ हुआ शुरू
सूर्य की उपासना का पर्व छठ हुआ शुरू

दीपावली के बाद अब सारा उत्तर भारत और देशभर में निवास करने वाले उत्तर भारतीय परिवार अब छठ पर्व की तैयारियों में लगे हैं। छठ को लेकर श्रद्धालुओं में अपार उत्साह है। छठ पर्व का सिलसिला 15 नवंबर से ही प्रारंभ हो जाएगा जो कि 18 नवंबर तक चलेगा। इस दौरान महिलाऐं अन्न ग्रहण नहीं करेंगी और व्रत करेंगी। महिलाओं द्वारा गुड़ के व्यंजन बनाए जाऐंगे। सूर्य देव के पूजन के साथ छठ पर्व की शुरूआत होगी और सूर्य देव के पूजन के ही साथ छठ पर्व का समापन भी होगा। 

मिली जानकारी के अनुसार छठ महापर्व का पूजन हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। इस दौरान उत्तरभारतीय, बिहारी और दिल्ली व पंजाब के बाशिंदे धार्मिक उल्लास के रंग में रंग जाते हैं। यह पर्व हर कहीं उल्लासित माहौल में मनाया जाता है। इस पर्व पर श्रद्धालु साफ - सफाई का कार्य भी करते हैं। 

रंग - रोगन का कार्य अंतिम चरण में होता है। मान्यता है कि छठ मैय्या का पूजन - अर्चन करने के साथ संतान की प्राप्ति के लिए पूजन किया जाता है। दरअसल यह पर्व इस बार 15 नवंबर को प्रारंभ होगा जिसमें नहाय - खाय मनाया जाएगा। जिसमें श्रद्धालु महिलाऐं सुबह जल्दी उठकर स्नान, ध्यान करेंगी।

पूजन अर्चन के ही साथ श्रद्धालु महिलाऐं गुड़ के व्यंजन बनाऐंगी और फिर महिलाओं द्वारा उपवास रखा जाएगा। श्रद्धालु महिलाओं द्वारा अगले दिन 16 नवंबर को खरना किया जाएगा। इसके बाद 17 नवंबर को अस्ताचल सूर्य को अध्र्य दिया जाएगा। सरोवरों, नदियों में बीच पानी में आधे खड़े रहकर महिलाऐं सूर्य को अध्र्य देंगी।

गन्ने के माध्यम से महिलाऐं पूजन करेंगी। तो दूसरी ओर पूजन के बाद दीपदान भी होगा। 18 नवंबर को श्रद्धालु सूर्योदय के समय उगते सूर्य को अध्र्य देंगे इस दौरान व्रत का समापन भी होगा। 

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -